चंडीगढ़, जेएनएन। हिमाचल प्रदेश के किन्नौर (Kinnaur) जिले में रविवार दोपहर बड़ी भू-स्खलन (Landslide) की घटना हुई है। हादसा किन्नौर के बटसेरी में पहाड़ दरकने से हुआ है। दोपहर में अचानक पहाड़ से चट्टानें गिरने से कई वाहन उसकी चपेट में आए। दुर्घटना में पर्यटकों से भरी टैंपो ट्रैवलर पर एक बड़ा पत्थर गिर गया, जिससे उसमें सवार नौ लोगों की मौत हो गई जबकि तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। इनमें एक व्यक्ति मोहाली का भी है। 

उसकी पहचान 37 वर्षीय नवीन भारद्वाज पुत्र बलवीर सिंह मकान नंबर 1192 रंजीत नगर, खरड़, के रूप में हुई है। स्थानीय पुलिस ने घायल नवीनव के परिवार वालों को घटना की जानकारी दे दी है। बाकी घायल और मृतक दिल्ली और राजस्थान के हैं। घायलों को सीएचसी सांगला रेफर किया गया है। मिली जानकारी के अनुसार किन्नौर जिले में बटसेरी के गुंसा के पास चट्टानें गिरने से छितकुल से सांगला की ओर आ रही पर्यटकों की गाड़ी भूस्खलन की चपेट में आ गई।

हादसे में कुल नौ लोगों की मौत और तीन लोग घायल हुए हैं।

बताया जा रहा है कि गाड़ी में सवार पर्यटक दिल्ली और चंडीगढ़ से हिमाचल प्रदेश घूमने आए थे। भूस्खलन होने से बास्पा नदी पर बना पुल टूट गया है जिससे गांव का संपर्क शेष देश और दुनिया से कट गया है। बड़ी बात यह है कि भूस्खलन की यह घटना दोपहर में उस वक्त हुई जब तेज धूप खिली हुई थी। हालांकि इन दिनों हिमाचल प्रदेश में मॉनसून के चलते भारी बारिश का अलर्ट जारी है। 

हादसे की सूचना मिलने पर पुलिस और प्रशासन की टीमें मौके पर पहुंच गई हैं। कांग्रेस के विधायक जगत सिंह नेगी ने बताया कि पहाड़ी से लगातार पत्थर गिर रहे हैं जिस कारण रेस्क्यू ऑपरेशन में दिक्कत आ रही है। उन्होंने कहा कि घायलों को अस्पताल लिफ्ट करने के लिए सरकार से हेलीकॉप्टर मांगा गया है जिसके जल्द पहुंचने का आश्वासन मिला है। किन्नौर के डीसी आबिद हुसैन सादिक, एसपी एसआर राणा मौके पर मौजूद हैं। बताया जा रहा है कि मृतकों को घायलों के परिवार वालों को घटना की सूचना दे दी गई है। 

Edited By: Ankesh Thakur