मोहाली, जेएनएन। पंजाब सरकार की घर-घर रोजगार स्कीम के तहत राज्य भर में शुरू किए पांचवें मेगा रोजगार मेले के पहले पड़ाव में 30 हजार से अधिक बेरोजगार युवाओं को रोजगार मुहैया करवाए हैं। यह रोजगार स्कीम राज्य में नौ सितंबर से शुरू की गई है। रोजगार मेलों के इस पांचवें पड़ाव दौरान कुल 2.10 लाख नौकरियों दी जानी है। यह खुलासा पंजाब के सेहत व परिवार भलाई मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने शुक्रवार को चंडीगढ़ ग्रुप ऑफ कॉलेज लांडरां में मेगा जॉब व सेल्फ इप्लाइमेंट मेले का उद्घाटन करते किया।

नौ लाख युवाओं को मिला रोजगार : मंत्री

उद्घाटन करने उपरांत सिद्धू ने 500 स्टूडेंट्स को नियुक्ति पत्र सौंपे। इस दौरान स्टूडेंट्स को वार्षिक 10 लाख से 30 लाख रुपये तक के पैकेज पर नौकरियों की पेशकश हुई। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार बेरोजगारों को नौकरियां देने का अपना वायदा पूरा कर रही है और अब तक 9 लाख बेरोजगारों को इन रोजगार मेलों के जरिए नौकरियां मुहैया की गई है। सीजीसी लांडरां में दो दिनों तक लगने वाले इस रोजगार मेले में छह हजार युवाओं को नौकरियों के मौके मुहैया किए जाएंगे।

500 युवाओं को दी जाएगी हुनर विकास मिशन के तहत फ्री ट्रेनिंग

मंत्री सिद्धू ने बताया कि 5वें रोजगार मेले के पहले पड़ाव में 10 हजार स्टूडेंट्स ने रोजगार स्कीम के तहत रजिस्टर्ड किया है और पंजाब सरकार इन स्टूडेंट्स को अपना व्यापार शुरू करने के लिए लोन दिलाने में सहयोग देगी। इसके अलावा 2500 स्टूडेंट्स ने हुनर विकास ट्रेनिंग के लिए नाम दर्ज करवाया है। इन स्टूडेंट्स को हुनर विकास मिशन के तहत फ्री ट्रेनिंग दी जाएगी। सेहत मंत्री ने कहा कि 21 सितंबर से दूसरा पड़ाव शुरू होगा। इसके तहत 74 संस्थानों पर रोजगार मेले लगाए जाएंगे। इस मौके सीजीसी कॉलेज के चेयरमैन सतनाम सिंह संधू, डीसी मोहाली गिरीश दियालन, सीजीजी ग्रुप के प्रधान रछपाल धालीवाल व एसडीएम जगदीप सिंह सहगल हाजिर थे।

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!