जागरण संवाददाता, चंडीगढ़। Hit and Run: चंडीगढ़ में तेज रफ्तार का कहर जारी है। 90 फीसद से ज्यादा सड़क हादसे ओवरस्पीड के कारण होते हैं। बावजूद लोग अनदेखी करते हुए जिंदगियों से खिलवाड़ कर रहे हैं। हिट एंड रन केस का ऐसा ही मामला शहर में फिर हुआ है। रात के समय तेज रफ्तार कार चालक ने स्कूटी पर जा रहे एक व्यक्ति को टक्कर मार दी और मौके से फरार हो गया। कार की टक्कर से घायल हुए स्कूटी सवार की मौत हो गई। 

पोल्ट्री फार्म चौक के पास मंगलवार रात तेज रफ्तार कार चालक ने स्कूटी सवार जीरकपुर के ढकोली स्थित कृष्णा एन्क्लेव में रहने वाले योगराज उर्फ योगेश को टक्कर मार दी। टक्कर के बाद आरोपित घायल को अस्पताल ले जाने के बजाए मौके से गाड़ी समेत फरार हो गया। पीछे से आ रहे घायल के रिश्तेदार ने योगेश को अस्पताल पहुंचाया जहां, इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया।  

शिकायतकर्ता दमन तिवारी ने बताया कि मंगलवार रात करीब 9.30 बजे वह बाइक से जीरकपुर की तरफ जा रहा थे। जब ट्रिब्यून चौक पर उसे उसका जीजा योगराज मिला जो अपनी स्कूटी से घर की तरफ जा रहा था। जैसे ही पोल्ट्री फार्म चौक पर पहुंचा तभी एक तेज रफ्तार कार चालक ने उसके जीजा को टक्कर मार दी। टक्कर के बाद एक्टिवा सवार योगेश डिवाइडर से टकराया। दमन तिवारी ने योगेश को निजी वाहन से जीएमसीएच-32 में भर्ती करवाया।

कायदे में चलने वाले ही फायदे में

चंडीगढ़ ट्रैफिक पुलिस रिकार्ड में आंकड़ों के आधार पर नियम और कायदे में चलने वाले ही फायदे में रहेंगे। इससे 95 फीसद हादसों में कमी आने का अनुमान लगाया जा रहा है। वहीं, नियमों की अनदेखी करने वालों पर ट्रैफिक पुलिस ने मैनुअल के साथ सीसीटीवी कैमरे से चालान करने के साथ जागरुकता अभियान भी चलाती हैं। इसमें एसआइ भूपेंदर सिंह अपने गाना गाकर ट्रैफिक नियमों के बारे में जागरूक करने की वजह से काफी चर्चाओं में रहते हैं।

Edited By: Ankesh Thakur