चंडीगढ़/नई दिल्ली [जेएनएन/एएनआइ]। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) ने 15 से 16 जून को पंजाब, हरियाणा व चंडीगढ़ के कई इलाकों में भारी बारिश व आंधी की संभावना जताई है। मौसम पूर्वानुमान के अनुसार, अगले 48 घंटों के दौरान चंडीगढ़ सहित पंजाब, हरियाणा में छिटपुट भारी बारिश (6-7 सेमी) के साथ कई स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश (1-3 सेमी) जारी रह सकती है। मौसम एजेंसी के अनुसार, इस अवधि के दौरान बिजली और तेज हवाओं (30-50 किमी प्रति घंटे) के साथ गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है।

हरियाणा में मानसून एंट्री दे चुका है। गत दिवस मानसून की झड़ी आधे से ज्यादा हरियाणा में देखने को मिली। इससे तापमान में गिरावट आई है। वहीं कुछ जिले ऐसे रहे, जहां सिर्फ बूंदाबांदी हुई। सबसे ज्यादा बारिश राजस्थान से सटे प्रदेश के सिरसा जिले में हुई। भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार सिरसा में 101.4 एमएम बारिश रिकार्ड की गई, जो प्रदेश में सर्वाधिक है। इसके अलावा हिसार, फतेहाबाद, चंडीगढ़, अंबाला व आसपास के जिलों में भी अच्छी बारिश हुई।

हरियाणा कृषि मौसम विभाग के अध्यक्ष डा. मदन खिचड़ ने बताया अगले तीन चार दिन तक (16 जून तक) बीच-बीच में राज्य के अधिकतर हिस्सों में गरज चमक व तेज हवाओं के साथ बारिश होने की संभावना है।अक्सर हरियाणा में साउथ वेस्ट मानसून 28 या 29 जून के आसपास आता है। पंजाब से मिलते हरियाणा के क्षेत्रों में मानसून की बारिश हुई है। जो आगे 3 से 4 दिन तक जारी रहेगी। भारत मौसम विभाग की माने तो इस बार पहले से ही मानसून जल्दी आने की उम्मीद थी क्योंकि वातावरणीय परिस्थितियां मानसून के अनुकूल थी। आधिकारिक रूप से भारत मौसम विभाग ने उत्तरी हरियाणा में मानसून की घोषणा कर दी है। 15 जून के आसपास मानसून की तीव्रता देखने को मिलेगी। गरज चमक के साथ बारिश होगी। यह बारिश खरीफ फसलों विशेषकर नरमा कपास सब्जियों फलदार पौधों के लिए फायदेमंद है।

पंजाब में 17 दिन पहले पहुंचा मानसून

पंजाब में भी मानसून ने दस्तक दे दी है। रविवार को कई जिलों में जमकर बारिश हुई। ऐसा पहली बार है जब मानसून ने 17 दिन पहले ही दस्तक दी है। मानसून के जल्द आगमन पर मौसम विज्ञानी भी हैरान हैं। बारिश से लोगों को गर्मी से राहत मिली है। पंजाब कृषि विश्वविद्यालय के विज्ञानी डा. केके गिल ने बताया कि मानसून हरियाणा से होते हुए पंजाब में दस्तक देता है, लेकिन इस बार उत्तर प्रदेश से होते हुए अमृतसर पहुंचा है।

पंजाब में गत दिवस लुधियाना, अमृतसर सहित कई जिलों में बारिश हुई। ऐसा पहली बार हुआ है जब मानसून 13 जून को ही प्रदेश में पहुंच गया है। इससे पहले केवल एक-दो बार 15 जून को मानसून पंजाब पहुंचा था। एक सप्ताह पहले तक यह पूर्वानुमान था कि मानसून 30 जून या फिर जुलाई के पहले सप्ताह में पंजाब में आएगा।

Edited By: Kamlesh Bhatt