चंडीगढ़, जेएनएन। रामनवमी के मौके पर गौरीशंकर सेवादल गोशाला सेक्टर 45 में हवन किया गया। इसमें संपूर्ण जगत के सभी जीव जंतुओं के स्वास्थ्य के लिए प्रार्थना की गई। सेवादल के वाइस प्रेसिडेंट विनोद शर्मा ने बताया कि कोरोना जैसी महामारी से दुनिया त्रस्त है, उससे निजात पाने के लिए सेवादल की तरफ से हवन का आयोजन किया गया है।

उन्होंने कहा कि भारतीय शास्त्रों के अनुसार हवन पर्यावरण काे साफ रखता है और कई तरह के रोगों को खत्म करता है। इसी सोच के साथ रामनवमी के मौके पर हवन किया गया है, जिसमें 21 किलो के करीब सामग्री की आहूति दी है। उन्होंने कहा कि हम हवन से पर्यावरण को साफ करने के साथ-साथ सभी देवी-देवताओं से प्रार्थना की गई कि कोरोना महामारी से देश को जल्द से जल्द निजात मिले ताकि हम पहले की तरह जीवन यापन कर सकें। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के चलते ज्यादा लोग गोशाला में नहीं बुलाया गया था और न ही लंगर का आयोजन किया गया था। 

कंजक की पूजा कर बांटे सेनिटाइजर और मास्क

सेवादल के चेयरमैन सुमित ने बताया कि कोरोना महामारी के चलते लाॅकडाउन चल होने के कारण ज्यादा कंजकों काे इकट्ठा नहीं किया। जो भी कंजकें मिली उनकी पूजा करने के बाद प्रसाद देने के साथ-साथ उन्हें सेनिटाइजर और मास्क दिए गए, ताकि वह महामारी से पूरी तरह से दूर रहे। उन्होंने कहा कि सैकड़ों गरीब लोग ऐसे हैं जो सेनिटाइज और मास्क नहीं खरीद सकते। कोरोना महामारी के चलते लगातार दूसरी बार हम बेहतर तरीके से कंजक पूजन नहीं कर पाए, लेकिन भगवान से प्रार्थना है कि वह जल्द से जल्द हमें इस महामारी से निजात दिलाएं।

Edited By: Ankesh Thakur