आनलाइन डेस्क, चंडीगढ़। Har Ghar Tiranga: सिटी ब्यूटीफुल चंडीगढ़ में आज आजादी का अमृत महोत्सव का विशेष कार्यक्रम सेक्टर-16 क्रिकेट स्टेडियम में हो रहा है। अभी तक जो क्रिकेट स्टेडियम चौके छक्कों के शोर पर गूंजता रहा है। आज यहां भारत माता की जय और वंदे मातरम जैसे नारे गूंजेंगे। क्रिकेट स्टेडियम में आज विश्व रिकार्ड बनने जा रहा है। शहर में आजादी के 75वें वर्ष को खास बनाने के लिए तीन से चार दिनों तक विशेष कार्यक्रम आयोजित होंगे। 13 अगस्त यानी आज से ही यह कार्यक्रम शुरू हो जाएंगे। जो 16 अगस्त की शाम तक जारी रहेंगे।

आज सेक्टर-16 स्थित क्रिकेट स्टेडियम में 7500 से अधिक प्रतिभागी एकजुट होकर लहराते राष्ट्रीय ध्वज की शकल में दिखाई देंगे। यह प्रतिभागी अलग-अलग रंगों में इस तरह रंगे होंगे कि ऊपर से देखने पर ऐसा प्रतीत होगा कि एक बड़ा राष्ट्रीय ध्वज हवा में लहरा रहा है। यह कार्यक्रम चंडीगढ़ का बड़ा उत्सव होगा। इससे पहले कभी लहराते तिरंगे का ऐसा रिकार्ड नहीं बना है। प्रत्येक प्रतिभागी की कलाई पर हैंडबैंड होगा। इससे उनकी गणना होगी और मूवमेंट का पता चलेगा। गिनिज बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड में यही आंकड़े काम आएंगे।

चंडीगढ़ के प्रशासक बनवारी लाल पुरोहित इस कार्यक्रम के मुख्यातिथि होंगे। जबकि विदेश एवं सांस्कृतिक राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी विशेष अतिथि के तौर पर कार्यक्रम में शामिल होंगी। यह कार्यक्रम यूटी प्रशासन चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के के साथ मिलकर आयोजित कर रहा है।

जनभागीदारी और देशप्रेम की मिसाल होगा यह

यह कार्यक्रम लोगों के दिलों में राष्ट्र प्रेम की भावना जागृत करेगा। साथ ही सबसे बड़ी जनभागीदारी का प्रतीक भी होगा। यह सभी प्रतिभागी बारी बारी से इस तरह एक्ट करेंगे जिससे ऐसा प्रतीत होगा कि तिरंगा हवा में लहरा रहा है। आजादी का अमृत महोत्सव लोगों को एकजुट करने के लिए ही आयोजित हो रहा है।

घर-घर तिरंगा जरूर लहराएं, ध्यान रहे तिरंगे के सम्मान को न पहुंचे ठेस

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आजादी के अमृत महोत्सव में लोगों से अपने घरों पर तिरंगा लहराने का आह्वान किया है। लोगों में भी इस स्वतंत्रता दिवस से पहले राष्ट्र ध्वज और राष्ट्रियता के लिए अलग ही तरह का उत्साह देखा जा रहा है। घर-घर तिरंगा पहुंच रहा है। तिरंगे उपलब्ध कराने के लिए बनाए गए सेल सेंटर और पोस्ट आफिस तक में कतार है। यह भावना बहुत अच्छी है लेकिन ध्यान रहे कि तिरंगे का सम्मान स्वतंत्रता दिवस के बाद भी हो। इसके सम्मान को किसी तरह से ठेस न पहुंचे। किसी तरह का अनादर न हो इसके लिए प्रशासन तिरंगा बांटने के साथ लोगों को नेशनल फ्लैग कोड की जानकारी भी दे रहा है। इंटरनेट मीडिया के साथ जागरूकता अभियान चलाकर भी यह जानकारी दी जा रही है। तीन लाख ध्वज घर-घर तक पहुंचाए जा रहे हैं।

Edited By: Ankesh Thakur