जासं, बरनाला (पंचकूला): सात माह से पुलिस के साथ आंख-मिचौली कर रहा दुष्कर्म व ठगी के आरोपित को थाना सिटी बरनाला की पुलिस ने आखिरकार जीरकपुर से काबू कर लिया। इसकी पुष्टि करते हुए डीएसपी विश्वजीत सिंह मान ने की।

बरनाला निवासी पीड़ित महिला ने पुलिस को शिकायत दी थी कि करीब एक वर्ष पहले जिले के एक बड़े कांग्रेसी नेता रमेश भुटारा का बेटा सुखदेव राम निवासी संधू पत्ती बरनाला उसके पड़ोस में रहने वाली एक महिला के माध्यम से उसके संपर्क में आया था। सुखदेव राम ने उससे कहा था कि उसका भाई कनाडा में पीआर है व वह उसके बेटे को स्पांसर करवाकर कनाडा भेजकर पक्का करवा देगा। उसने बताया कि कनाडा भेजने व पीआर करवाने के 13 लाख रुपये खर्च होंगे। उसकी बातें सुनकर वह सुखदेव राम के झांसे में आ गई व महिला ने सुखदेव को 26 जुलाई 2020 को 2 लाख 50 हजार रुपये, 7 अगस्त 2020 को तीन लाख 50 हजार रुपये, 21 अगस्त 2020 को दो लाख 50 हजार रुपये, 29 अगस्त 2020 को दो लाख 50 हजार रुपये बेटे को विदेश भेजने के लिए सुखदेव राम शर्मा उर्फ सुक्खा को दिए। 10 लाख रुपये लेकर भी सुखदेव राम ने उसके बेटे को विदेश नहीं भेजा व तीन लाख रुपये और लेने के लिए दबाव बनाने लगा। तीन लाख रुपये लेने के बहाने वह अकसर उसके घर आने लगा। पीड़ित ने कहा कि इस दौरान सुखदेव राम ने उससे दुष्कर्म भी किया व अश्लील वीडियो भी बना ली। वीडियो का डर दिखाकर आरोपित लगातार उसे अपनी हवस का शिकार बनाता रहा। सुखदेव ने उसे धमकी दी कि यदि उसने पैसे वापस लेने संबंधी व जबरदस्ती करने संबंधी किसी को बताया तो वह उसकी वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर देगा। आखिर सुखदेव राम के अत्याचार से तंग आकर उसने पुलिस को शिकायत की।

सुखदेव राम के खिलाफ दी शिकायत के आधार पर तत्कालीन एसपी एच की पड़ताल के बाद पुलिस ने सुखदेव राम को पेश होने के लिए कहा गया कितु वह नहीं पेश हुआ। पुलिस ने सुखदेव राम के पिता रमेश भुटारा के बयान भी लिए। इसमें उन्होंने लिखवाया कि उनका बेटा अब उनके घर नहीं रहता व न ही उसके ठिकाने का उन्हें कोई पता है। उन्होंने अपने बेटे को बेदखल कर दिया है। अंत पड़ताल के बाद थाना सिटी में सुखदेव राम के खिलाफ 12 जनवरी 2021 को मामला दर्ज किया गया। इस तरह काबू हुआ आरोपित

जीरकपुर से प्राप्त जानकारी अनुसार पुलिस द्वारा काबू सुखदेव राम सुक्खा ने एक व्यक्ति को सोने का बिस्कुट 17 हजार रुपये तोला के दाम पर देने के लिए जीरकपुर के बिग बाजार के समक्ष बुलाया। जिस व्यक्ति के साथ बिस्कुट बेचने का सौदा किया गया था, उस व्यक्ति से दुष्कर्म व ठगी पीड़ित महिला के पारिवारिक सदस्यों ने किसी तरह संपर्क बनाया। इसके बाद बरनाला पुलिस ने पूरी तैयारी व योजना से जीरकपुर पहुंची जहां उक्त व्यक्ति ने सुखदेव राम से बिस्कुट खरीदना था। एएसआइ मलकीत सिंह की अगुआई में पुलिस पार्टी ने अन्य लोगों की मदद से आरोपित को काबू कर लिया।

Edited By: Jagran