जागरण संवाददाता, चंडीगढ़ : मेयर राजबाला मलिक की पहली सदन की बैठक मंगलवार को होने जा रही है। बैठक में दो करोड़ 42 लाख रुपये के साइन बोर्ड लगाने का प्रस्ताव पास होने के लिए आ रहा है। ये बोर्ड शहर की वी-3,वी-4 और वी-5 रोड के किनारों पर लगेंगे। यह इस तरह के बोर्ड होंगे जोकि रात के समय भी दिखेंगे। इसके अलावा इस बैठक में वित्त एवं अनुबंध कमेटी के नए बने सदस्यों के नाम की घोषणा की जाएगी। बैठक में म्यूनिसिपल एक्ट के अनुसार गठित कमेटियों का चयन करने का अधिकार मेयर को दिया जाएगा। बैठक में सेक्टर-17 प्लाजा की सफाई व्यवस्था अलग से देने का प्रस्ताव पास किया जाएगा। इस समय नगर निगम ने यह काम लायंस कंपनी को दिया हुआ है जिसके पास दक्षिणी सेक्टरो की सफाई का काम पहले से मिला हुआ है। नगर निगम प्लाजा की सफाई का काम भी स्थायी तौर पर लायंस कंपनी को देना चाहता है जबकि समय-समय पर लायंस कंपनी की कारगुजारी पर पार्षद खुद ही सवाल उठाते रहे हैं। नगर निगम दक्षिणी सेक्टरों की सफाई पर लायंस कंपनी को हर साल 54 करोड़ रुपये की राशि का भुगतान कर रहा है। गोशाला को किसी एनजीओ को देने का प्रस्ताव भी आएगा

बैठक में रायपुर कलां में बनने वाली गोशाला को किसी एनजीओ को देने का प्रस्ताव भी पास किया जाएगा। यहां पर नई गोशाला का निर्माण किया जा रहा है। इस समय जेपी प्लांट में 25 हजार टन कचरा पड़ा है। इसको प्रोसेस करने के लिए एनजीटी ने नगर निगम को ही कहा है। ऐसे में प्लांट में इस कचरे को डंपिग ग्राउंड तक ले जाया जाएगा। यह काम 31 मार्च तक करने के लिए एनजीटी ने निर्देश दिए हैं। ऐसे में इस कचरे को प्रोसेस करने का प्रस्ताव इस माह होने वाली सदन की बैठक में आ रहा है। इसका खर्चा नगर निगम को ही अदा करना होगा। डड्डमाजरा के डंपिग ग्राउंड में इस समय पड़े 50 लाख टन कचरे को प्रोसेस करने का काम स्मार्ट सिटी के तहत अलॉट कर दिया गया है। जिसके तहत काम भी शुरू हो गया है। जेपी प्लांट से डंपिग ग्राउंड तक कचरा पहुंचाने के लिए जो ट्रांसपोर्ट का खर्चा आएगा, उसे पास किया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!