बलवान करिवाल, चंडीगढ़। इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए चंडीगढ़ प्रशासन ने शहर की पहली इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी का ड्राफ्ट तैयार कर लिया है। इसी सप्ताह इस ड्राफ्ट को जारी कर दिया जाएगा। ड्राफ्ट पर लोगों के सुझाव और शिकायतें जानने के बाद उनके हिसाब से ड्राफ्ट को संशोधित कर इसकी फाइनल अधिसूचना जारी होगी। अप्रैल 2022 से शहर की पहली इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी लांच कर दी जाएगी। प्रशासन इसी हिसाब से तैयारी कर चुका है।

प्रशासन ने इलेक्ट्रिक वाहनों को इंसेंटिव देने के लिए तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया था। कमेटी में ट्रांसपोर्ट सेक्रेटरी, एमसी कमिश्नर और क्रेस्ट सीईओ शामिल हैं। इस कमेटी ने कई मीटिंग के बाद इंसेंटिव फाइनल कर लिया है। कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर ही इन वाहनों को खरीदने वाले वाहन चालकों को छूट दी जाएगी। इस ड्राफ्ट में लोगों को इलेक्ट्रिक वाहनों के फायदे बताए जाएंगे। यह पॉलिसी लोगों को इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने के लिए प्रोत्साहित करेगी।

प्रति किलोवाट की क्षमता को देखते हुए मिलेगी छूट

चंडीगढ़ प्रशासन इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए इन्हें खरीदने पर वाहन मालिक को इंसेंटिव देगा। अभी तक इलेक्ट्रिक वाहन पर इंसेंटिंव देने की अधिकतम सीमा 75 हजार रुपये थी। इसे बढ़ाकर अब डेढ़ लाख रुपये किया जा रहा है। नए पॉलिसी ड्राफ्ट में इसे सीधा दोगुना कर दिया गया है। अब वाहन मालिक को डेढ़ लाख रुपये तक की छूट मिलेगी। यूटी प्रशासन नई पॉलिसी में सब्सिडी के लिए कारों की संख्या की सीमा को हटाने जा रहा है। अभी यूटी प्रशासन प्रति वर्ष निर्धारित कारों की संख्या तय कर सब्सिडी देता है। 15 लाख तक वाहन की कीमत होने की शर्त हट जाएगी। पार्किंग शुल्क में शतप्रतिशत की छूट दी जाएगी। इसी तरह से टोल चार्ज में भी रियायत देने की बात चल रही है।

ऐसे मिलेगी छूट

दो पहिया वाहन- इंसेंटिव प्रतिकिलोवॉट पांच हजार, अधिकतम सीमा 30 हजार

चार पहिया वाहन- प्रतिकिलोवॉट 10 हजार रुपये, अधिकतम सीमा डेढ़ लाख

तीन पहिया वाहन- ई-रिक्शा, ई-कार्ट, ई-ऑटो को अधिकतम 30 हजार रुपये तक की छूट

हर सेक्टर में होगा चार्जिंग स्टेशन

प्रत्येक सेक्टर में एक चार्जिंग स्टेशन सेटअप किया जाएगा। 50 चार्जिंग स्टेशन सेटअप किए जाएंगे। केंद्र सरकार ने फेम स्कीम के तहत चंडीगढ़ को 70 चार्जिंग स्टेशन सेंक्शन कर रखे हैं। पहले 37 चार्जिंग स्टेशन सेटअप किए जाएंगे। इन्हें सेटअप करने का काम आवंटित किया जा चुका है। टू व्हीलर और फोर व्हीलर एक ही चार्जिंग प्वाइंट से चार्ज हो सकेंगे। फेम स्कीम के फेज-1 के तहत 48 चार्जिंग स्टेशन पहले ही चंडीगढ़ में इंस्टॉल किए जा चुके हैं। पार्किंग में यह चार्जिंग प्वाइंट बनाए जा रहे हैं। कई जगह सोलर पावर प्लांट लगाए जा रहे हैं इनकी सोलर एनर्जी से वाहन चार्ज होंगे। सेक्टर-42 न्यू लेक पर 800 किलोवाट का सोलर प्रोजेक्ट लगाया जा रहा है।

Edited By: Ankesh Thakur