जागरण संवाददाता, चंडीगढ़ : पंजाब यूनिवर्सिटी के ग‌र्ल्स हॉस्टल में वीरवार देर शाम बिना अनुमति घुसने वाले छात्रों के खिलाफ हॉस्टल की लड़कियों ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है। उधर पूरे मामले में एसएफएस छात्र संगठन ने भी पीयू प्रशासन से मामले में कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। मामले की शिकायत लड़कियों ने वुमेन सेल में भी की है लेकिन अभी तक पूरे मामले में पीयू प्रशासन की ओर से कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

पीयू ग‌र्ल्स हॉस्टल नंबर-2 की करीब दस लड़कियों की ओर से सेक्टर-11 पुलिस स्टेशन एसएचओ को लिखित में शिकायत दी गई है। इसमें आरोप लगाया है कि वीरवार को करीब 10 से 12 स्टूडेंट्स बिना वार्डन की अनुमति के हॉस्टल के कॉमन रुम में घुस गए। हॉस्टल में घुसने वाले कई छात्र एबीवीपी से जुड़े हुए हैं। आरोप है कि मामले में हॉस्टल वार्डन को भी शिकायत की गई, लेकिन उन्होंने भी पल्ला झाड़ते हुए कहा कि लड़के उनकी अनुमति के बिना ही हॉस्टल में घुसे हैं।

रिसर्च स्कॉलर का हॉस्टल रुम खोला

पीयू प्रशासन ने आखिर शुक्रवार को हॉस्टल अलॉटमेंट भी शुरू कर दी। पीयू के रिसर्च स्कॉलर सुखदेव का हॉस्टल नंबर 3 में कमरा खोल दिया गया है। ग‌र्ल्स हॉस्टल में भी एक छात्रा को कमरा देने की जानकारी है।

पुलिस अधिकारी शिकायत मिलने से ही मुकर गए

एसएफएस छात्र नेता संदीप के अनुसार ग‌र्ल्स हॉस्टल में घुसने वाले स्टूडेंट्स के खिलाफ शिकायत सेक्टर-11 स्टेशन में दर्ज कराई है। उधर शुक्रवार शाम को एसएचओ ने ऐसी किसी शिकायत से मना कर दिया। जबकि छात्राओं की ओर से लिखित शिकायत की कापी पुलिस स्टेशन में स्वीकार की हुई है।

कोट्स ..

मेरे पास पीयू ग‌र्ल्स हॉस्टल की छात्राओं की ओर से लड़कों के जबर्दस्ती घुसने संबंधी कोई शिकायत नहीं आई है।

रणजोत सिंह, एसएचओ सेक्टर-11 चंडीगढ़।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप