जागरण संवाददाता, चंडीगढ़ : चुनाव संपन्न होने के बाद आखिर शहर फिर से डेवलपमेंट की पटरी पर आ गया है। ढाई महीने से बंद पड़े कार्य और धूल फांक रही फाइलें अब आगे बढ़ेंगी। आरडब्ल्यूए और दूसरे संगठन अब अपनी मीटिग कर सकते हैं। ढाई महीने से शहर में लागू आदर्श चुनाव आचार संहिता हट गई है। इलेक्शन कमीशन ऑफ इंडिया से लिखित पत्राचार मिलने के बाद यूटी प्रशासन ने आदर्श आचार संहिता को तुरंत प्रभाव से हटाने के आदेश जारी कर दिए हैं। लोकसभा चुनाव का परिणाम घोषित हो चुका है। परिणाम आने के बाद ही चुनाव आयोग ने यह फैसला लिया है। हालांकि पहले 27 मई को नोटिफिकेशन जारी होने के बाद आचार संहिता हटने की बात कही जा रही थी। लेकिन चुनाव आयोग ने एक दिन पहले ही इसे चंडीगढ़ सहित कई अन्य प्रदेशों से हटाने के आदेश कर दिए। इससे पहले 10 मार्च को चुनाव आयोग ने देशभर में सात चरणों में लोकसभा चुनाव कराने की घोषणा की थी। चंडीगढ़ में सातवें अंतिम चरण में मतदान हुए हैं। चुनाव घोषणा के साथ ही पूरा प्रशासनिक अमला इसकी तैयारियों में जुट गया था। शहर में बिना मंजूरी कहीं मीटिग तक करने की मनाही थी। जिस वजह आरडब्ल्यू और दूसरे संगठन मीटिग तक नहीं कर पा रहे थे। अब जारी होंगे कई टेंडर

चुनाव आचार संहिता लागू होते ही शहर में सभी तरह के नये कार्यो पर रोक लग गई थी। जो फाइलें जहां थी, वह वहीं अटकी हुई थी। कोई नया टेंडर जारी नहीं हो सका। सिर्फ पहले से चल रहे कार्य ही हो सके। अब आदर्श आचार संहिता हटने के बाद फिर से इन कार्यो को गति मिलेगी। इस सप्ताह 10 से अधिक टेंडर जारी होंगे। जिसमें कई टेंडर बड़े डेवलपमेंट प्रोजेक्ट के भी हैं। इंजीनियरिग डिपार्टमेंट, चंडीगढ़ हाउसिग बोर्ड और ट्रांसपोर्ट सहित बहुत से डिपार्टमेंट ने टेंडर डॉक्यूमेंट तैयार कर रखे हैं। अब इन्हें तुरंत जारी किया जाएगा। ट्रिब्यून चौक फ्लाईओवर के साथ ट्रांसपोर्ट में इलेक्ट्रीसिटी बस चलाने संबंधी कई टेंडर जारी होने हैं। 100 दिन के प्लान पर शुरू होगा काम

चुनाव की वजह से शहर पीछे न रहे, इसके लिए एडवाइजर मनोज कुमार परिदा ने पहले से ही इसकी तैयारी कर ली थी। एडवाइजर ने सभी डिपार्टमेंट के एचओडी से 100 दिन का प्लान मांगा था। जिसमें अगले 100 दिन में वह क्या करेंगे, यह उनको बताना था। अधिकतर डिपार्टमेंट अपना प्लान जमा भी करा चुके हैं। आचार संहिता हटने के बाद अब एडवाइजर इस प्लान पर डिपार्टमेंट से प्रेजेंटेशन लेंगे। सोमवार को इस पर मीटिग भी हो सकती है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!