चंडीगढ़, जेएनएन। पंजाब यूनिवर्सिटी कैंपस में शुक्रवार फिर से स्टूडेंट फॉर सोसायटी छात्र नेता और पीयू प्रशासन के अधिकारियों के बीच जमकर हंगामा हुआ। छात्र नेता अपनी मांगों को लेकर पंजाब यूनिवर्सिटी कुलपति प्रोफेसर राजकुमार के घर के सामने इकट्ठे हुए थे। पुलिस उन्हें गिरफ्तार करके ले गई है। 

50 से अधिक स्टूडेंट्स पंजाब यूनिवर्सिटी कैंपस खोलने, स्टूडेंट्स को हॉस्टल एलॉटमेंट करने, पुलिस में छात्रों पर दर्ज केस वापस लेने की मांग को लेकर धरना दे रहे थे। छात्र-छात्राएं कुलपति के घर के सामने ही डट गए और उन्होंने नारेबाजी करनी शुरू कर दी। मामले में पहले पीयू सिक्योरिटी अधिकारी पहुंचे। स्थिति काबू नहीं आ पाई तो पुलिस को बुलाना पड़ा। बार-बार समझाने के बाद भी जब स्टूडेंट्स कुलपति के घर के सामने से उठने को तैयार नहीं हुए तो पुलिस ने जोर जबरदस्ती उन्हें उठाने की कोशिश की। इसी बीच दोनों के बीच काफी देर तक कहासुनी भी हुई। पुलिस ने आखिर में धरने पर बैठे करीब 20 से अधिक छात्रों को गिरफ्तार कर लिया और उन्हें पुलिस की गाड़ी में बंद कर सेक्टर 11 थाने ले गई। स्टूडेंट की गिरफ्तारी पर भी दूसरे छात्रों ने काफी देर तक कुलपति के घर के सामने नारेबाजी की और प्रशासन के इस फैसले का कड़ा विरोध भी किया।

गौरतलब है कि बीते करीब 1 महीने से छात्र संगठन के नेता पीयू प्रशासन के सामने अपनी मांगों को लेकर कभी हॉस्टल तो कभी, वीसी दफ्तर के सामने लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं। पीयू प्रशासन ने भी छात्रों के गुस्से को देखते हुए बीते दिनों पंजाब यूनिवर्सिटी और सभी विभागों की लाइब्रेरी खोलने का भी फैसला कर लिया, लेकिन अन्य मांगों पर अभी पंजाब यूनिवर्सिटी प्रशासन ने कोई कार्यवाही नहीं की जिसके विरोध में शुक्रवार को भी कैंपस में विरोध प्रदर्शन किया ।

Edited By: Pankaj Dwivedi