Move to Jagran APP

Chandigarh News: देश का पहला लाइट हाउस प्रोजेक्ट बनेगा चंडीगढ़ का रेलवे स्टेशन, निर्माण कार्य शुरू

लंबे इंतजार के बाद चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन को आधुनिक स्वरूप देने के लिए निर्माण कार्य शुरू हो गया है। निर्माण कार्य का ठेका लेने वाली कंपनी ने पंचकूला रेलवे स्टेशन की तरफ अपना अस्थायी आफिस बना लिया है। स्थायी आफिस के लिए निर्माण कार्य शुरू कर दिया है।

By Jagran NewsEdited By: Nidhi VinodiyaSun, 11 Dec 2022 11:05 AM (IST)
देश का पहला लाइट हाउस प्रोजेक्ट बनेगा चंडीगढ़ का रेलवे स्टेशन

चंडीगढ़, जागरण संवाददाता ।  लंबे इंतजार के बाद चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन को आधुनिक स्वरूप देने के लिए निर्माण कार्य शुरू हो गया है। निर्माण कार्य का ठेका लेने वाली कंपनी ने पंचकूला रेलवे स्टेशन की तरफ अपना अस्थायी आफिस बना लिया है। स्थायी आफिस के लिए निर्माण कार्य शुरू कर दिया है। इसके अलावा रेलवे स्टेशन परिसर में जगह-जगह बोरिंग कर मिट्टी के नमूने लिए जा रहे हैं।

चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन, एक लाइट हाउस प्रोजेक्ट होगा

इन नमूनों की जांच कर मिट्टी की गुणवत्ता को परखा जाएगा। मिट्टी की क्षमता के आधार पर फाउंडेशन साइज, फाउंडेशन डिजाइन और निर्माण के लिए जरूरी अनुशंसाओं को तैयार किया जाएगा। खुशी की बात यह है कि निर्माण कार्य जमीनी स्तर पर शुरू हुआ है। चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन का निर्माण कार्य कई मायनों में बेहद खास होगा। यह लाइट हाउस प्रोजेक्ट होगा। अपग्रेडेशन के लिहाज से यह प्रोजेक्ट देश दुनिया में माडल के तौर प्रस्तुत किया जाएगा। यह प्रोजेक्ट सफल रहता है तो यह अत्याधुनिक तकनीक से बनने वाला भारत का पहला रेलवे स्टेशन होगा। इस प्रोजेक्ट की सफलता के बाद देश के अन्य हिस्सों में भी इसी तर्ज पर रेलवे स्टेशनों को विकसित किया जाएगा।

माड्यूलर कांसेप्ट पर होगा निर्माण 

चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन का निर्माण माड्यूलर कांसेप्ट पर बनेगा। इसका निर्माण कार्य बेहद व्यवस्थित ढंग से सीमित साधनों में किया जाएगा। इसकी खासयित यह होगी कि निर्माण कार्य के दौरान रेलवे स्टेशन को स्थायी तौर पर बंद नहीं किया जाएगा। ट्रेनों की आवाजाही नियमित रूप से होती रहेगी। पूरे निर्माण कार्य के दौरान चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पूरी तरह से आपरेशनल होगा। इसमें तमाम बीम, कालम और पैनल आदि का निर्माण कार्य प्रोजेक्ट साइट से दूर किया जाएगा और इससे जरूरत के हिसाब से बाद में जोड़ा जाएगा।

रोजगार के भी मिलेंगे बेहतर अवसर 

चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन को 15 माह में 462 करोड़ रुपये से आधुनिक स्वरूप दिया जाएगा। नए स्वरूप में स्टेशन में यात्रियों को पंचकूला और चंडीगढ़ की तरफ 15-15 रिजर्वेशन काउंटर, 27 लिफ्ट और 11 एस्कलेटर की सुविधा दी जाएगी। 90 हजार यात्री प्रतिदिन क्षमता वाला यह नया रेलवे स्टेशन वर्ष 2053 तक की जरूरतों को पूरा करेगा। प्रोजेक्ट में जितनी भी कंस्ट्रक्शन होगी, वह ग्रीन बिल्डिंग की प्लेटिनम रेटिंग के आधार पर होगी। चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन के निर्माण कार्य में बड़ी संख्या में शहर के लोगों को रोजगार भी उपलब्ध होंगे। प्रोजेक्ट से जुड़े अलग-अलग निर्माण के लिए कंपनी कई छोटी-बड़ी कंपनियों को इस निर्माण कार्य में अपना भागीदार बनाएगी।