बलवान करिवाल, चंडीगढ़। चंडीगढ़ के हालात भी अब प्रदूषण की वजह से खराब हो रहे हैं। वीरवार की सुबह चंडीगढ़ के लिए अच्छी नहीं रही। प्रदूषण इस साल सबसे रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया। सुबह 11 बजे एयर क्वालिटी इंडेक्स 226 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर दर्ज किया गया। इस वर्ष ऐसा पहली बार हुआ है जब यह 200 को पार कर गया है। शाम तक इसके और बढ़ने की संभावना जताई जा रही है। विशेषज्ञों का मानना है कि ठंड बढ़ने से यह और बढ़ेगा। तापमान जैसे जैसे कम हो रहा है प्रदूषण का स्तर बढ़ रहा है। प्रदूषण के पर्टिक्यूलेट मैटर हवा में ठहर रहे हैं। पीएम-10 और 2.5 की मात्रा लगातार बढ़ रही है। अब यह बारिश के बाद ही नीचे बैठेंगे।

हवा की बिगड़ती स्थिति चिंताजनक है। चंडीगढ़ में लंबे अंतराल के बाद ऐसा हुआ है जब एक्यूआई 200 के पार पहुंचा है। हालांकि साथ लगते शहर पंचकूला में वीरवार सुबह एक्यूआई 166 दर्ज किया गया। जबकि पिछले कई दिनों से पंचकूला में यह अधिक चल रहा था।

बारिश हुई तो हवा होगी साफ

अगले पांच दिनों तक बारिश की संभावना विशेषज्ञ जता रहे हैं। मौसम विभाग ने इसका पूर्वानुमान जारी किया है। इस बारिश से काफी उम्मीद लगाई जा रही है। बारिश होती है तो हवा में तैर रहे प्रदूषण के कण नीचे बैठ जाएंगे। बारिश होती है तो हवा पहले की तरह साफ हो जाएगी। अभी भी प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए पेड़ों के ऊपर वॉटर स्प्रिंक्लर से पानी छिड़का जा रहा है। इससे उन सड़कों को कवर किया जा रहा है जहां वाहनों के चलने से धूल उड़ती है।

प्रमुख शहरों में एक्यूआई का स्तर

चंडीगढ़- 226

पंचकूला 166

अंबाला 226

कुरुक्षेत्र 317

सोनीपत 318

अमृतसर 158

जालंधर 195

लुधियाना 262

पटियाला 308

नई दिल्ली 428

गुरुग्राम 370

फरीदाबाद 445

नोएडा 378

गाजियाबाद 354

Edited By: Pankaj Dwivedi