इन्द्रप्रीत सिंह, चंडीगढ़। पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि पंजाब के सभी विधायक रेत खनन के कारोबार में शामिल हैं, लेकिन वह किसी का नाम सार्वजनिक नहीं करेंगे। जब उनसे पूछा गया कि क्या वह उन कुछ नामों का रहस्योद्घाटन कर सकते हैं, जो बड़े-बड़े हैं तो कैप्टन ने कहा कि फिर तो मुझे टाप से ही शुरू करना होगा। उन्होंने कहा, यह पूछिए कि कौन रेत के कारोबार में शामिल नहीं है।

कैप्टन गत दिवस चुनिंदा पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे, जिसमें उन्होंने भाजपा के साथ मिलकर चुनाव लड़ने की रणनीति बनाने, लिंचिंग, देश की सुरक्षा के लिए खतरा बन रहे ड्रोन और पंजाब की खेती एवं भूजल को लेकर गंभीर विषयों पर लंबी बातचीत की। उन्होंने दो और किताबें लिखने संबंधी भी बताया। कैप्टन ने पाकिस्तान से आ रहे ड्रोन और मौजूदा पंजाब सरकार की इस चुनौतीपूर्ण काम पर बरती जा रही गैर गंभीरता पर चिंता व्यक्त की।

उन्होंने पिछले आंकड़े देते हुए बताया कि पंजाब इस समय भारी खतरे में है। चीन में बने ड्रोन अब 50-50 किलोमीटर सीमा के अंदर आने लगे हैं, जिसमें जीपीएस आदि फिट हैं और ये हथियार, ड्रग्स आदि गिरा रहे हैं। हमारे पास इन्हें ट्रैक करने की तकनीक नहीं है। उन्होंने इस गंभीर खतरे के प्रति मुख्यमंत्री रहते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को भी बताया है। साथ ही कहा कि प्रदेश के गृह मंत्री सुखजिंदर रंधावा जैसे लोग मेरी इन बातों को गंभीरता से नहीं ले रहे।कैप्टन ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री से कहा है कि पंजाब को हर साल बीस हजार करोड़ दें तो देश को दालों का आयात करने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

सिद्धू के बयान पर कहा- बकवास कर रहा है

कैप्टन ने श्री दरबार साहिब और कपूरथला में हुई दो घटनाओं को लेकर कहा कि लिंचिंग की घटनाओं को सही नहीं ठहराया जा सकता। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिद्धू के धार्मिक ग्रंथों की बेअदबी करने वाले को चौराहे पर लटकाने वाले बयान पर कैप्टन ने कहा कि सिद्धू बकवास कर रहा है। हमारे देश में कानून व्यवस्था लागू है। हम ऐसा जंगलीपन नहीं कर सकते हैं। दोनों जगह लोगों को मार दिया गया, अब कैसे पता चलेगा कि इन घटनाओं के पीछे कौन है। इस तरह की घटनाएं ध्रुवीकरण को बढ़ावा देती हैं और जो लोग पथभ्रष्ट हो जाते हैं वे ड्रग्स व हथियार पहुंचाने के लिए स्लीपर सेल का काम करते हैं।

जब तक पाक आतंकवाद को बढ़ावा देगा, व्यापार नहीं हो सकता

पंजाब की सीमा पर चीन-पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बन रहे गठजोड़ पर चिंता व्यक्त करते हुए अमरिंदर सिंह ने कहा कि ऐसी स्थिति में आतंकवाद व व्यापार साथ-साथ नहीं चल सकता। सिद्धू ने पाकिस्तान से व्यापार शुरू करने की वकालत की थी। कैप्टन ने कहा कि जब तक पाकिस्तान आतंकवाद को बढ़ावा देगा उनके साथ व्यापार नहीं किया जा सकता। चीन-पाक-अफगानिस्तान के गठजोड़ का पंजाब व देश पर प्रभाव पर कैप्टन इन दिनों एक किताब लिख रहे हैं। उन्होंने कहा कि अब ये तीनों एक देश हो गए हैं और भारत को अत्यधिक सतर्क रहने की जरूरत है। इन तीनों के एक होने से पंजाब पर सबसे ज्यादा प्रभाव पड़ रहा है।

आपरेशन ब्लू स्टार क्यों हुआ पर भी किताब लिखेंगे कैप्टन

कैप्टन अमरिंदर सिंह जो रणनीतिक और सुरक्षा मामलों के जानकार हैं, ने कहा कि भारत को ड्रोन को मार गिराने के लिए अपना मिसाइल सिस्टम बढ़ाना होगा। वह इन सभी मुद्दों पर एक किताब लिख रहे हैं। इसके बाद आपरेशन ब्लू स्टार क्यों हुआ इस पर किताब लिखेंगे और बताएंगे कि कैसे अकाली लीडरिशप फेल हुई व इतनी बड़ी घटना हुई।

Edited By: Kamlesh Bhatt