चंडीगढ़, राजेश ढल्ल। भाजपा अध्यक्ष पद से संजय टंडन की विदाई तय है।पार्टी हाईकमान ने नए अध्यक्ष के लिए प्रबल दावेदारों की सूची मांगकर नामाें पर चर्चा शुरू कर दी है। इसकाे लेकर संगठन मंत्री दिनेश कुमार और आरएसएस की भी राय ली गई है।

संजय टंडन दस साल से अध्यक्ष पद पर अासीन है। भाजपा की स्थानीय इकाई टंडन के अलावा सांसद किरण खेर और पूर्व सांसद सत्यपाल जैन गुटाें में बंटी हुई है।यह तीनों गुट ही अध्यक्ष पद पर कब्जा करना चाहते हैं।टंडन और खेर गुट के बीच छत्तीस का आकड़ा है।

टंडन के हटने के बाद हाईकमान द्वारा उन्हें कोई बड़ी जिम्मेदारी दी जा सकती है।टंडन वर्तमान के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यख जेपी नड्डा के करीबी है।ऐसे में इस बात की भी चर्चा है कि टंडन को राष्ट्रीय कार्यकारिणी में शामिल कर लिया जाएगा।

संगठनात्मक चुनाव 80 प्रतिशत पूरे 

संगठनात्मक चुनाव 80 प्रतिशत हो चुके हैं। चुनाव अधिकारी प्रेम कौशिक ने इसकी जानकारी हाईकमान को दे दी है। अलग-अलग गुट चाहते हैं कि पहले भाजपा अध्यक्ष की कुर्सी पर कब्जा कर पंसदीदा पार्षद को नए साल में होने वाले मेयर चुनाव में उम्मीदवार बनाया जाए।ऐसे में गुट एक तीर से दो शिकार करना चाहते हैं।

50 साल से कम आयु का होगा नया अध्यक्ष

नए अध्यक्ष पद के लिए पूर्व मेयर आशा जसवाल, अरुण सूद, देवेश मोदगिल, चंद्रशेखर, रामवीर भट्टी, सतिंदर सिंह, धीरेंद्र तयाल, सौरभ जोशी और शक्तिदेव शाली को दावेदार माना जा रहा है।सतिंदर सिंह संघ नेताओं के भी करीबी है।

हाईकमान चाहता है कि 50 साल से कम आयु के नेता को नया अध्यक्ष बनाया जाए।नए अध्यक्ष के लिए हाईकमान की ओर से स्थानीय संघ नेताओं की भी राय ली जा रही है।पूर्व मेयर देवेश मोदगिल के लिए पूर्व सांसद सत्यपाल जैन लाबिंग कर रहे हैं।जबकि सांसद किरण खेर की पहली पंसद पूर्व पार्षद सतिंदर सिंह है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Vipin Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!