जागरण संवाददाता, मोहाली : मोहाली से हिमाचल के जिला हमीरपुर के गाव डमरोला का रहने वाला 28 साल का रिक्की भाटिया सगाई करने के लिए गया, लेकिन रास्ते से ही गायब हो गया। वह पिछले तीन महीनों से गायब है और अब तक उसका कुछ पता नहीं चला। पीड़ित के पिता पन्ना लाल भाटिया बेटे के लापता होने वाले दिन से जीरकपुर पुलिस स्टेशन के चक्कर काट रहे हैं लेकिन पुलिस उनको ऊना पुलिस स्टेशन में जाकर अपनी कार्रवाई करवाने की सलाह देकर पल्ला छुड़ा रही है। इसको लेकर अब पीड़ित पिता ने उच्चाधिकारियों को पत्र लिखकर कार्रवाई करवाने की माग की है।

बोला साढे 12 बजे हमीरपुर के भोटा बस स्टैंड आ जाना लेने

पीडित युवक के पिता पन्ना लाल ने बताया कि वह दिल्ली में ऐसी प्लाट में काम करता है और उनका बेटा रिक्की मोहाली एक कॉल सेंटर में काम करता है। बेटे की 20 जून को हमीरपुर में सगाई थी और सारी तैयारिया पूरी कर ली थी। 19 जून की रात को उनके बेटे का फोन आया कि वह हमीरपुर के लिए बस ले रहा है और रात करीब साढ़े 12 बजे भोटा बस स्टॉप पर पहुंच जाएगा। उसको रात को लेने के लिए आ जाना। पिता रात को निर्धारित समय पर उसको लेने चले गए, लेकिन वह वहां नहीं मिला। तब से उसका मोबाइल पर भी संपर्क नहीं हो पा रहा है।

जीरकपुर की मिली मोबाइल लोकेशन

पीड़ित के पिता ने बताया कि उन्होंने बेटे की ऊना पुलिस स्टेशन में अगले दिन जाकर गुमशुदगी की शिकायत दी। पुलिस ने डीडीआर तो दर्ज कर ली और रिक्की के मोबाइल की लोकेशन जीरकपुर बताई। वह ऊना पुलिस स्टेशन के मुलाजिमों के कहने पर जीरकपुर पुलिस स्टेशन गए लेकिन वहा उनकी शिकायत ही नहीं लिखी जा रही।

Posted By: Jagran