जागरण संवाददाता, चंडीगढ़। लंबे रूट पर नई एसी बसें दौडऩे के बाद घाटे में चल रही चंडीगढ़ ट्रांसपोर्ट अंडरटेकिंग (सीटीयू) की हालत सुधरने लगी है। जब से सीटीयू को 80 एसी बसें मिली हैं, प्रतिदिन रेवेन्यू चार से लाख से अधिक बढ़ गया है। यह बसें चलने के बाद से अभी तक खूब कमाई कर रही हैं। बताया जा रहा है कि काउंटर पर लगते ही यह बसें फुल हो जाती हैं।

अब लगभग सभी पड़ोसी राज्यों में सीटीयू की सर्विस फिर से शुरू हो गई है। अधिकतर बंद पड़े रूट शुरू हो चुके हैं। पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और दिल्ली में सबसे ज्यादा सर्विस है। इन बसों की ऑनलाइन बुङ्क्षकग भी जल्द होने लगेगी। सीटीयू ने बुकिंग के लिए सॉफ्टवेयर भी तैयार कर लिया है। एसी बसों के साथ ऑर्डिनरी की बुङ्क्षकग भी इससे हो सकेगी। एसी बस चलने के बाद से डिमांड ज्यादा बढ़ गई है।

मिलेंगी 40 और नई एसी बसें

सीटीयू को एक दो-महीने बाद 40 और नई एसी बसें मिल जाएंगी। यह खेप आने के बाद सीटीयू को लांग रूट से अच्छा रेवेन्यू मिलना शुरू हो जाएगा। इससे सिटी सर्विस का घाटा भी पूरा होता रहेगा। लांग रूट पर माइलेज अच्छी मिलती है जिससे रेवेन्यू ज्यादा मिलता है। सीटीयू ने 120 एसी बसों का टेंडर जारी किया था। जिसमें से 80 बसें मिल चुकी हैं। 40 बसें अभी मिलनी हैं।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Vikas Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!