जागरण संवाददाता, चंडीगढ़ : पंजाब यूनिवर्सिटी कैंपस में विवादित पोस्टर लगाने पर बुधवार को विवाद हो गया। इसे लेकर दो छात्र गुटों के बीच जमकर हाथापाई और मारपीट हुई। दोनों पक्षों की ओर से एक दूसरे के खिलाफ पुलिस में लिखित शिकायत दी गई है। दोपहर करीब तीन बजे पीयू कैंपस स्थित लाइब्रेरी के पास स्टूडेंट फार सोसाइटी (एसएफएस) और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) से जुड़े छात्र नेताओं में कैंपस में चस्पा पोस्टर को लेकर कहासुनी होने लगी।

एबीवीपी से जुड़े छात्रों ने आरोप लगाया कि कैंपस में कई जगह छात्र संगठन एसएफएस की ओर से बाबरी मस्जिद निर्माण को लेकर कुछ विवादित पोस्टर लगाए हुए। एबीवीपी ने इसका विरोध किया। कुछ जगहों पर पोस्टर फाड़ दिए गए। इस बीच पीयू स्थित एसी जोशी लाइब्रेरी के सामने एसएफएस और एबीवीपी से जुड़े छात्र नेताओं के बीच झड़प हुई। देखते ही देखते दोनों पक्षों में मारपीट होने लगी। विवाद बढ़ता देख पुलिस को सूचित कर दिया गया। हालांकि शाम तक इस मामले में पुलिस की ओर से कोई केस दर्ज नहीं किया गया था। पुलिस अधिकारियों के अनुसार पूरे मामले की जांच चल रही है। मारपीट में कुछ छात्रों को हल्की चोटें आई हैं। पुलिस ने कुछ छात्रों के बयान भी दर्ज किए हैं। उधर, पीयू प्रशासन भी मामले के बाद सकते में हैं। पीयू कैंपस में इस तरह के विवादित पोस्टर लगाना बिल्कुल गलत है। जानकारी मिलते ही मामला शांत करवाया गया। ऐसे विवादित पोस्टर से कैंपस का माहौल बिगड़ता है। पूरा घटनाक्रम पुलिस के संज्ञान में है।

- विक्रम सिंह, चीफ आफ सिक्योरिटी पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ ।

Edited By: Jagran