आनलाइन डेस्क, चंडीगढ़। मोहाली के घड़ूआं स्थित चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में हुए एमएमएस लीक कांड की जांच चल रही है। मामले में यूनिवर्सिटी से एमबीए कर रही आरोपित छात्रा समेत हिमाचल प्रदेश के दो युवकों की गिरफ्तारी हुई है। तीनों आरोपित पुलिस की कस्डटी में है और पंजाब पुलिस की स्पेशल इनवेस्टिगेशन टीम (एसआइटी) उनसे पूछताछ कर रही है। 

अभी पुलिस जांच कर रही है वहीं इंटरनेट मीडिया पर एक पोस्ट तेजी से वायरल हो रहा है और लोग भी उसे बिना खूब शेयर कर रहे हैं। इंटरनेट मीडिया पर चलाए जा रहे कई तरह के पेज इस मैसेज को पोस्ट कर रहे हैं और जो लोग इन पेजों को फालो करते हैं वे इस पोस्ट को धड़ाधड़ा शेयर कर रहे हैं। 

क्या है पोस्ट जो तेजी से हो रहा शेयर

 सोशल मीडिया साइट फेसबुक पर यह पोस्ट इतना ज्यादा शेयर हो रहा है कि इसे सभी लोग अपने अपने एफबी अकाउंट्स से वायरल करने में लगे हैं। पोस्ट है...60 लड़कियों में से किसी का भी MMS दिखे तो बिना फारवर्ड किए डिलीट कर देना। हम और आप इतना तो कर ही सकते हैं उन बच्चियों के लिए। लोग इस पोस्ट को शेयर करते हुए उन एमएमएस का जिक्र कर रहे हैं जो चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में आरोपित छात्रा द्वारा बनाए गए हैं, लेकिन अभी तक यह पुख्ता नहीं हुआ है कि आरोपित छात्रा ने 60 गर्ल्स स्टूडेंट्स के आपत्तिजनक वीडियो बनाए भी हैं या नहीं। 

इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर लोग खूब शेय कर रहे हैं। 

पुलिस का कहना नहीं वायरल हुआ कोई वीडियो

पंजाब पुलिस की एसआइटी आरोपित छात्रा, उसके ब्वायफ्रेंड सनी वर्मा और सनी के दोस्त रंकज मेहता तीनों से मामले में पूछताछ कर रही है। तीनों आरोपित 7 दिन के पुलिस रिमांड पर हैं। आरोपितों का आज पुलिस रिमांड का 5वां दिन है। वहीं पुलिस का कहना है कि छात्रा ने जो बयान दिए हैं उसमें उसने किसी भी दूसरी छात्राओं के वीडियो न बनाने की बात कही है। वहीं पुलिस भी यह कह रही है कि आरोपित छात्रा के मोबाइल से जो भी वीडियो मिले हैं वह उसके खुद के हैं। हालांकि अभी पुलिस की जांच जारी है और छात्रा के मोबाइल, लैपटाप सहित आरोपित युवक सनी वर्मा और रंकज मेहता का मोबाइल फारेंसिक जांच के लिए भेजा गया है। इसकी रिपोर्ट आने के बाद ही इस बात का खुलासा होगा कि आरोपित छात्रा ने हास्टल की अन्य छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो बनाए हैं या नहीं। पुलिस का कहना है कि एक दो दिन में फारेंसिक रिपोर्ट आएगी, जिसके आधार पर मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी।

पुलिस ने अभी तक नहीं की 60 वीडियो की पुष्टी

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के हास्टल में गर्ल्स स्टूडेंट्स के आपत्तिजनक वीडियो लीक मामला 18 सितंबर को उजागर हुआ था। आरोपित छात्रा पर आरोप है कि उसने हास्टल की 60 छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो बनाए हैं और उन्हें अपने ब्वायफ्रेंड सनी वर्मा को भेजती थी। वहीं छात्रा की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने उसका मोबाइल कब्जे में लेकर जांच की तो मोहाली पुलिस के एसएसपी विवेकशील सोनी ने मीडिया को बताया कि आरोपित छात्रा के मोबाइल में कुल एक वीडियो मिला है जो उसका अपना ही है। इसके बाद पुलिस की जांच आगे बढ़ी और आरोपित छात्रा से पूछताछ की गई तो पुलिस प्रशासन की तरफ से बताया गया कि छात्रा के मोबाइल में 12 वीडियो और मिले हैं, लेकिन वह भी उसके अपने है न किसी किसी दूसरी छात्राओं के हैं। 

Edited By: Jagran