जागरण संवाददाता बठिडा: गीतों व फिल्मों को सिर्फ इंटरटेनमेंट के नजरिये से ही लें। तनाव भरी जिदगी को तनावमुक्त करने का ही माध्यम हैं फिल्में व गीत। इन शब्दों का प्रगटावा गायक सिघा ने किया। वह अपनी तीन दिसंबर को जारी होने वाली फिल्म 'कदे हां कदे ना' की प्रमोशन के लिए दैनिक जागरण के बठिडा कार्यालय पहुंचे थे। गायक सिघा ने कहा कि फिल्मों व गीतों में दिखाये जाने वाले हथियारों को युवा सिर्फ इंटरनेटमेंट के लिए ही लें।

गायक सिघा ने बताया कि फिल्म तीन दिसंबर को जारी हो रही है। यह रोमांटिक फिल्म है और दर्शक इसका भरपूर आनंद लेंगे। उन्होंने बताया कि यह फिल्म मोहाली व पटियाला व उसके आसपास के क्षेत्र में फिल्माई गई है। फिल्म का म्युजिक जारी हो चुका है, जिसको बहुत अच्छा रिस्पांस मिल रहा है।

उनके साथ फिल्म की हीरोइन संजना सिंह भी पहुंचीं। उन्होंने बताया कि वह मुंबई की रहने वाली हैं। यह उनकी पहली पंजाबी फिल्म है और उनका अनुभव बहुत ही अच्छा रहा है। उनको पहले लगता था कि वह मुंबई के बिना कहीं भी सेटल नहीं हो सकती, लेकिन अब उनकी यह धारना बदल गई है। अब वह पंजाब में रह सकती हैं। पंजाब की जिदंगी बहुत ही स्कून भरी है, जबकि मुंबई भीड़-भाड़ वाली जिदगी है। वह पंजाब में रहना पसंद करेगी।

शुभम ने बताया कि फिल्म कदे हां कदे ना में सिघा व संजना सिंह के अलावा, बीएन शर्मा, निर्मल रिशी, सुमित गुलाटी, अशोक पाठक, प्रेरणा शर्मा, माहिरा शर्मा, सिमरन सहजपाल, प्रकाश गाधू, रविदर मंड, राजेश शर्मा, शिवानी ठाकुर, हैप्पी सिंह, भुपिदर बरनाला, दीपिका शर्मा, कविता शर्मा व संदीप कैले आदि एक्टर शामिल हैं। फिल्म के लेखक व निर्देक सुनील ठाकुर हैं। इस मौके पर राजविदर सिंह रंगीला, जोशन आदि मौजूद थे।

Edited By: Jagran