नानक सिंह खुरमी, मानसा : गेहूं का सीजन होने के कारण मानसा के गांव रामदित्ते वाला के किसानों ने सीवरेज प्लांट से फसलों के लिए पानी लेने से इन्कार कर दिया है, जिसके कारण शहर का सीवरेज सिस्टम बुरी तरह चरमरा गया है। लगभग हर वार्ड में सीवरेज के ब्लॉक होने की शिकायतें मिल रही हैं। कई दिन से गंदा और बदबूदार पानी जमा होने के कारण लोंगों को खतरनाक बीमारियां फैलने का डर सता रहा है। नगर कौंसिल की ओर से सीवरेज प्लांट का पानी को शोध कर फसलों के लिए जारी होता है। कई दिन से किसानों द्वारा पानी लेने से इन्कार करने से सीवरेज में गंदा पानी जमा हो गया। नगर कौंसिल के पास इसका कोई हल नहीं है। सीवरेज विभाग के जेई रमनदीप सिंह ने बताया कि सीवरेज प्लांट से मानसा के गांव रामदित्ते वाला के किसानों ने खेती के लिए नगर कौंसिल मानसा की ओर से सीवरेज प्लांट में से जारी होने वाला पानी बंद कर दिया है और इस कारण प्लांट में लगी दो मोटरों की बजाए एक ही चलाई जा रही है। उन्होंने कहा कि इस कारण शहर के विभिन्न क्षेत्रों में सीवरेज का पानी जाम हो रहा है। जैसे ही मोटरें चलने लगेंगी, समस्या दूर हो जाएगी।

एक या दो दिन में ठीक हो जाएगी समस्या : गोरा

नगर कौंसिल अध्यक्ष मनदीप सिंह गोरा ने कहा शहर में सीवरेज व्यवस्था फेल हो गई है और विभाग के पास फिलहाल इसका इसका कोई समाधान नहीं है। उन्होंने कहा, अगले कुछ दिन में किसान पानी लेना शुरू कर देंगे और यह समस्या एक या दो दिन में ठीक हो जाएगी।

किसानों ने कम जरूरत के चलते बंद किया पानी : जेई

सीवरेज विभाग के जेई रमनदीप सिंह ने कहा कि नगर कौंसिल की ओर से सीवरेज प्लांट से जारी होने वाला पानी शुद्द करके दिया जाता है। इस समय गेहूं की कटाई का सीजन है जिसके कारण किसानों को पानी की ज्यादा जरूरत नहीं है। यही वजह है कि किसानों ने कुछ दिन से पानी लेना बंद कर दिया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!