अमनदीप राठौड़, बरनाला : विवाहित महिलाओं के लिए सबसे महत्वपूर्ण करवाचौथ के लिए शहर के बाजार सजना शुरू हो गए हैं। नवरात्र महोत्सव के बाद यह सबसे बड़ा त्योहार है, जिसके लिए दुकानदार पूरी तैयारी कर चुके हैं। बाजारों में महिलाओं को आकर्षित करने के लिए रंग-बिरंगी चूड़ियां व सोलह श्रृंगार का सामान उपलब्ध हो गया है और बड़ी संख्या में महिलाएं अभी से खरीदारी करने में जुट गई हैं। श्रृंगार की दुकानों के अलावा इन दिनों लेडीज गारमेंट व ज्वेलरी की दुकानों पर भी काफी चहल-पहल है। हालाकि सोने के महंगे गहनों के बीच आर्टिफिशियल ज्वेलरी की मांग में भी तेजी आई है। सोने के बाद आर्टिफिशियल ज्वेलरी में भी आकर्षित डिजाइन बाजार में पेश नजर आ रहे हैं, जो काफी हद तक महिलाओं व युवतियों को अपनी तरफ खींच रहे हैं।

इन दिनों शहर के मेन सदर बाजार, हंडिआया बजार व अन्य जगहों पर बड़ी संख्या में महिलाएं खरीदारी के लिए पहुंच रही हैं।

महिलाएं ग्रुप बनाकर ब्यूटी पार्लर पर बुकिग करवा रही हैं। पंचायती मंदिर के पास, सदर बाजार, समेत शहर की अन्य जगहों पर मेहंदी लगाने वाले कारीगरों के पास महिलाओं की भीड़ भी होनी शुरू हो गई है। करवाचौथ पर दिख रहा महिलाओं का उत्साह

बंद गली बाजार में मनियारी के दुकानदार राजिदर कुमार ने बताया कि कोरोना के चलते पहले तो सब कुछ बंद था, लेकिन अब मिली छूट के बाद करवाचौथ पर खरीददारी के लिए उत्साह दिखाई दे रहा है। उनको आस है कि इस बार उनका कारोबार अच्छा चलेगा। मेंहदी लगाने वाले कारीगर विजय कुमार ने कहा कि करवाचौथ को लेकर उनके पास ब्राइडल मेहंदी, अरेबियन, सिल्वर गोल्डन, राजस्थानी, जयपुरी, बांबे कट, बैंडेज, टैटू मेहंदी के डिजाइन उपलब्ध हैं।

धीरे-धीरे बढ़ रहा है कारोबार

ब्यूटी पार्लर सेंटर चलाने वाली अमृतपाल कौर ने कहा कि वेडिंग सीजन व करवाचौथ एक साथ आने से कारोबार धीरे-धीरे बढ़ रहा है। इसके चलते अतिरिक्त कारीगर रखने पड़े हैं। हेयर कलर से लेकर फेशियल तक इस बार नए व आकर्षक अंदाज में उपलब्ध है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!