संवाद सूत्र, बरनाला

स्थानीय बीवीएम इंटरनेशनल स्कूल में आनलाइन गतिविधि का आयोजन किया गया। यह गतिविधि अध्यापिकाओं द्वारा करवाई गई। बच्चों ने घर से विभिन्न तरह की वस्तुएं दिखाकर उस पर बोले। जैसे मनपंसद खिलौने, कापी, किताबें, बोतल, पैसिल बॉक्स। अध्यापिका द्वारा सबसे पहले एक वस्तु दिखाकर उस पर कुछ लाईन बोली गई। एक-एक करके बच्चों ने अपनी-अपनी वस्तुएं दिखाई और वस्तुओं के बारे में बोला। ऐसी गतिविधियां समय-समय पर स्कूल की तरफ से आनलाइन करवाई जाती हैं ताकि बच्चों का आत्मविश्वास बढ़ाया जा सके। पहली व दूसरी कक्षा के बच्चों ने इस गतिविधि में बढ़चढ़ कर भाग लिया। इस गतिविधि में अनुशासन का विशेष ध्यान रखा गया। अध्यापिका ने बच्चों को इस गतिविधि का उद्देश्य बताया कि यह गतिविधि हमने इसलिए करवाई ताकि आप सबके सामने खुलकर बोल सकें। स्कूल प्रिंसिपल ने बच्चों को बताया कि हमें ऐसी गतिविधियों में भाग लेना चाहिए व सबके सामने उत्साह के साथ बोलना चाहिए ताकि हम जीवन में आगे बढ़ सकें। बच्चों के विकास के लिए स्कूल की तरफ से हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। बच्चे के सुनहरे भविष्य के लिए स्कूल की तरफ से हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं।

----------------

बच्चों ने धरती के विभिन्न जल श्रोता की आनलाइन गतिविधि की

संवाद सहयोगी, बरनाला

कोरोना महामरी के चलते सभी शैक्षिक विभाग बंद होने के कारण बच्चों की पढ़ाई में विघ्न पड़ गया है कितु एसबीएस पब्लिक स्कूल सुरजीतपुरा की तरफ से बच्चों की पढ़ाई को निर्विघ्न जारी रखने के लिए आनलाइन कक्षाएं जारी हैं। बच्चों की पूरे अनुसाशन में सभी कक्षाएं लगती हैं। बच्चों को नए व आसान ढंग के साथ पढ़ाई करवाने के लिए समय -समय पर स्कूल की तरफ से विभिन्न गतिविधियों करवाई जाती हैं। स्कूल की अध्यापक अर्षवीर कौर ने तीसरी कक्षा के बच्चों को एक आनलाइन गतिविधि करवाई। जिसमें उन्होंने बच्चों को धरती के अलग-अलग जल स्त्रोत जैसे नदियां, समुंद्र आदि के पानी के बहाव के बारे में बताया। उन्होंने बच्चों को मॉडल के माध्यम से धरती पर पानी के पूरे चक्कर के बारे में अवगत करवाया। जिसके बाद बच्चों ने अपने-अपने माडल तैयार किए। स्कूल प्रिसिपल कमलजीत कौर ने बताया कि बच्चों को आनलाइन कक्षाओं द्वारा पूरा स्कूल जैसा माहौल बनाने का यत्न करते हैं।

Edited By: Jagran