जेएनएन, बरनाला। आम आदमी पार्टी के विधायक व नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा ने कहा है कि पार्टी के पांच विधायक बागी शीघ्र जल्द घर वापसी करेंगे। उन्होंने कहा कि विधायक सुखपाल खैहरा को मनाने के लिए हरसंभव कोशिश की गई, मर्जी का पद्भार लेने का ऑफर भी दिया गया, लेकिन वह नहीं माने। चीमा ने अनाज मंडी पक्खोकलां का दौरा कर किसानों की समस्याएं सुनी।

पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण विधायक सुखपाल खैहरा व कंवर संधू को निलंबित किया गया है। इसके बाद बागी पांच विधायक शीघ्र अपने गिले-शिकवे दूर करके पार्टी में आ जाएंगे। उन्होंने कहा कि पंजाब में लोकसभा चुनाव से पहले पार्टी को मजबूत करने के लिए 'साडा बूथ सब तो मजबूत' की लहर चलाई जा रही है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि चाहे पार्टी के कुछ नेता नाराज हो गए हैं, लेकिन वालंटियर अरविंद केजरीवाल की सोच के साथ हमेशा एकजुट हैं।

खैहरा के साथ चट्टान की तरह खड़े हैं : खालसा

भदौड़ विधानसभा क्षेत्र के विधायक पिरमल सिंह खालसा ने हरपाल चीमा के बयान पर कहा कि वह किसी व्यक्ति विशेष के साथ नहीं जुड़े हैैं। पार्टी के संविधान मुताबिक व पंजाब के मुद्दों को लेकर वे विधायक सुखपाल सिंह खैहरा के साथ चट्टान की तरह खड़े हैं। पहले खैहरा को असंवैधानिक तरीके से नेता प्रतिपक्ष के पद से हटाया गया और अब फिर गलत तरीके से पार्टी से निलंबित किया गया है। वह पार्टी में रहकर हर गलत फैसले का विरोध करते रहेंगे।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt