जागरण संवाददाता, बरनाला : जिला बार एसोसिएशन ने अपने एक सदस्य के खिलाफ थाना रूड़ेके कलां में बिना तथ्यों की पड़ताल किए केस दर्ज करने के रोष के तौर पर एक दिवसीय हड़ताल की। जिस दौरान जिला अदालत बरनाला के समूह वकीलों ने रोष धरना देकर अदालतों की सुनवाई संबंधी 'नौ वर्क मोशन'का आह्वान दिया।

इस अवसर पर एसोसिएशन के प्रधान एडवोकेट पंकज बांसल, जनरल सेक्रेटरी दर्शन ¨समक, हरप्रीत ढिल्लों, सीनियर वकील राहुल गुप्ता ने बताया कि थाना रूड़ेके पुलिस ने गांव पक्खों कलां के एक व्यक्ति द्वारा सुसाइड किए जाने के मामले में वकील सुखराज ¨सह सिद्धू पर झूठा केस दर्ज कर दिया है, जब कि वकील सिद्धू का उक्त मामले के साथ कोई संबंध नहीं है। उन्होंने कहा कि पुलिस ने मामले संबंधी तथ्यों की पड़ताल किए बिना वकील सिद्धू पर कार्रवाई की है, जो गलत है। वकीलों ने कहा कि पुलिस की झूठी कार्रवाई के खिलाफ बार एसोसिएशन द्वारा एक दिवसीय हड़ताल की गई है। समूह वकीलों ने जिला पुलिस को चेतावनी भरे लहजे में कहा कि यदि उक्त मामले में सुखराज ¨सह सिद्धू के खिलाफ की कार्रवाई रद्द नहीं की गई तो एसोसिएशन की मी¨टग बुला कर अगले सख्त एक्शन का फैसला किया जाएगा। हड़ताल दौरान वकीलों ने अदालत में निश्चित तारीख पर आने वाले लोगों की सुविधा के लिए एडवोकेट अनुज मोहन, चमकौर ¨सह भट्ठल, बिपनदीप कौर, धरमिन्दर ¨सह धालीवाल व दीपक राय भट्टा पर आधारित सोमवार सुनवाई के लिए लगे मामलों की अगलियां तारीख परौकसी कौंसिल बनाई गई थी। इस

अवसर पर संदीप कुमार, दीपक बांसल, नवीन कुमार, इकबाल ¨सह, आरपी ¨सह, अर्शदीप ¨सह, चंद्र बांसल, हनी गर्ग, संजीव कुमार, मनप्रीत ढिल्लों, नितिन बांसल, मनिन्दर ¨सह गिल, प्रदीप कुमार आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran