फोटो : 04जाल-10,10ए

प्रशासन की विफलता

-पुलिस ने सूचना मिलते दीवारों पर लिखे नारे मिटाए

-प्रशासन ने किया दावा, शरारती तत्वों का है काम

संवाद सहयोगी, भदौड़ (बरनाला) : जिला बरनाला के भदौड़ में वीरवार रात किसी ने गुरुद्वारा की चारदीवारी, एसजीपीसी संचालित मीरी पीरी खालसा कॉलेज की दीवार, बरनाला-बाजाखाना मेन रोड पर लगे बोर्ड और नानकसर रोड पर बने गेट पर खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लिख दिए। शुक्रवार सुबह जब लोगों ने देखा तो इसकी सूचना पुलिस को दी तो प्रशासन ने आनन-फानन में मिटा दिया। डीसी बरनाला घनश्याम थोरी ने कहा कि वह अभी एसएसपी को कह कर मामले की जाच करवाएंगे।

सुबह सैर करने निकले लोगों ने देखा कि नगर कौंसिल दफ्तर भदौड़ के साथ नानकसर रोड पर बने गेट के पत्थर पर काले पेंट से खालिस्तान जिंदाबाद लिखा है। लोगों ने तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दी। यह सूचना मिलते ही प्रशासन के होश उड़ गए। आनन-फानन में एक व्यक्ति को भेजकर नारे को थिनर से मिटाने की कोशिश की। इस बीच पता चला कि बाजाखाना रोड स्थित शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) के अधीन प्रसिद्ध वैसाखी वाले गुरुद्वारा साहिब की चारदीवारी पर खालिस्तान रिफरेंडर 2020 और आजादी का एक ही हल खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लिखे थे। इसके अलावा एसजीपीसी संचालित मीरी पीरी खालसा कॉलेज की दीवार और कॉलेज के बाहर बरनाला-बाजाखाना मेन रोड पर लोहे का बोर्ड पर भी खालिस्तान जिंदाबाद लिखा गया था।

इस संबंध में थाना भदौड़ के थाना प्रभारी प्रगट सिंह ने दावा कि यह किसी शरारती तत्व का काम है। ये तत्व शहर का माहौल खराब करना चाहता है। मामले की जाच गंभीरता से की जाएगी व जो भी आरोपी पाया जाएगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

एसएसपी बरनाला हरजीत सिंह ने कहा कि यह मामला उनके ध्यान में नहीं है। वह अभी पुलिस अधिकारी को भेज कर जाच करवाएंगे। उन्होंने भी दावा किया कि यह शरारती तत्वों का काम है, परन्तु पुलिस किसी भी हालत में माहौल खराब नहीं होने देगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!