बरनाला [सोनू उप्पल]। बरनाला-मोगा नेशनल हाईवे पर पक्खो कैचियां पर किसानों ने धान से भरे करीब 150 से अधिक ट्रक-ट्राला का घेराव कर लिया। शनिवार देर रात से 150 से अधिक ट्रक ट्राला का घेराव करने के बाद रविवार सुबह किसानों ने कागजात चेक करनेेके बाद 140 ट्रालों को छोड़ दिया, जबकि 10 ट्राले जो बाहरी राज्यों से आए थे किसानों ने उन्हें रोके रखा और केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। 

इस अवसर पर किसानों द्वारा धरना लगाकर जमकर प्रदर्शन किया गया व केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। घटनास्थल पर थाना सदर, थाना टल्लेवाल, डीएसपी सिटी लखविंदर सिंह टीवाना व डीएसपी तपा रविंदर सिंह रंधावा द्वारा किसानों को शांत किया गया। पुलिस द्वारा राहगीरों की सुविधा के लिए ट्रको को हाईवे किनारे खड़ा करवाया गया व ट्रैफिक को सुचारू किया।

बता दें, अमृतसर, तरनतारन, गुरदासपुर, बरनाला, मानसा, बठिंडा समेत अन्य जिलो में स्टोर होने के लिए बरनाला से धान से भरे ट्रक ट्राले गुजर रहे हैंं, परंतु किसानों द्वारा बाहरी राज्यों से धान स्टोर होने की गलत सूचना पर इनको रोक लिया। इसके बाद पंजाब के वाहनों को कागजात चैक करके छोड़े दिए। अब बाहरी राज्यों यूपी-बिहार के 10 ट्रालों को रोक रखा है। 

किसान नेता दर्शन सिंह, सतनाम सिंह, उजागर सिंह, नाजर सिंह ने कहा कि बाहरी राज्यों से शैलर में धान लाकर स्टोर किया जा रहा है। किसान तो पहले ही कृषि कानून को लेकर जिंदगी मौत से जूझ रहे हैंं व अब किसानों के संघर्ष की आड़ में बाहरी राज्यों के धान को स्टोर किया जा रहा है। अगर धान का स्टॉक पूरा हो गया तो उनका धान कौन खरीदेगा। किसानों द्वारा ऐसा किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा व संघर्ष किया जाएगा। अगर शैलर का स्टॉक पूरा हो गया तो दोहरी मार पड़ेगी। 

डीएसपी सिटी लखविंदर सिंह टीवाना ने कहा कि उन्हेंं रात को जैसे ही सूचना मिली तो उनकी तरफ से पुलिस कर्मचारियों को तैनात किया गया। राहगीरों के लिए को बाधा नहीं आने दी व ट्रक किनारे खड़े करवाए गए। उन्होंंने कहा कि पुलिस द्वारा हर तरह से नजर रखी जा रही है व माहौल को शांत बनाया जा रहा है। वहीं, मार्केट कमेटी के चेयरमैन अशोक मित्तल व डीएफएसओ ने कहा कि किसानों का दाना-दाना खरीदा जाएगी। किसानों को किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं आने दी जाएगी। किसान सरकार का साथ देकर शांतमय प्रदर्शन करें।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!