जागरण संवाददाता, बरनाला

टोल प्लाजा महलकलां पर भारतीय किसान यूनियन एकता डकोंदा के नेतृत्व में आसपास के गांवों ने दस किलोमीटर के नजदीकी के गांवों के लोगों को टोल टैक्स से राहत दिलाने के लिए टोल पास की मांग करते हुए रोष धरना लगाया।

भारतीय किसान यूनियन एकता डकौंदा के किसान नेता जगराज सिंह हरदासपुरा, मलकीत सिंह इना, अजमेर सिंह महलकलां, अमरजीत सिंह ठुल्लीवाल, मास्टर सोहन सिंह महलकलां, गुरप्रीत सिंह सहजड़ा, मंगत सिंह सिद्धू, परमजीत सिंह खालसा आदि ने कहा कि केंद्र सरकार विभिन्न टैक्स लगाकर किसानों की जेब लूट रही है, वहीं टोल प्लाजा महलकलां भी टोल के जरिए आसपास के गांवों को लूट रही है। अधिकांश टोल प्लाजा 10 किलोमीटर के भीतर गांवों को मुफ्त पास प्रदान करते हैं ताकि उन्हें अपने घरेलू काम से आने-जाने के लिए टोल टैक्स का भुगतान न करना पड़े लेकिन महलकलां टोल के मालिक व अधिकारी पास जारी करने से इंकार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब तक 10 किलोमीटर के दायरे में आने वाले गांवों के लोगों की टोल स्लिप को बंद कर पास जारी नहीं कर दिया जाता, तब तक टोल प्लाजा महलकलां पर रोष धरना जारी रहेगा।

---------------- पांच जनवरी को जिला मुख्यालय पर केंद्र सरकार का पुतला फूंका जाएगा

जागरण संवाददाता बरनाला

भारतीय किसान यूनियन एकता उगराहां के आह्वान पर रविवार को गांव गहिल, नारायणगढ़ सोहिया, सदोवाल, दीवाना, पंडोरी, गुमटी, गुरम, नंगल, वजिदके कलां और हमीदी में केन्द्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया गया।

जिला उपाध्यक्ष बकन सिंह सदोवाल, महासचिव कुलजीत सिंह वजीदके कलां, वित्त सचिव नाहर सिंह गुमटी, सचिव मान सिंह गुरम, कुलदीप सिंह चौहानके कलां, राजपाल सिंह पंडोरी, नंबरदार राजिदर सिंह आदि ने कहा कि भारतीय किसान यूनियन की मानी गई मांगों को अभी तक लागू नहीं किए जाने के विरोध में पांच जनवरी को जिला मुख्यालय पर केन्द्र सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन करके पुतला फूंका जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकारी संस्थानों के निजीकरण को रोका जाए, एमएसपी कानून बनाया जाए, किसान आंदोलन के दौरान पंजीकृत पर्चे रद्द किए जाएं और लखमीरपुर घटना के लिए जिम्मेदार मंत्री को कैबिनेट से बर्खास्त किया जाए। इस मौके पर गुरदीप सिंह खालसा, भरभूर सिंह, जीत सिंह सदोवाल, हरबिदर सिंह गुरम, दर्शन सिंह नंगल, गुरमेल सिंह, महिदर सिंह पंडोरी, अजमेर सिंह भट्टल, सुखविदर सिंह काला, सरबजीत कौर सोहल, डॉ. कमलजीत कौर नंगल आदि भी उपस्थित थे।

Edited By: Jagran