Move to Jagran APP

बरनाला का अग्निवीर जवान जम्मू-कश्मीर में ड्यूटी के दौरान शहीद, एक साल पहले की थी ज्वाइनिंग

पंजाब के जिला बरनाला के गांव मेहता निवासी सेवानिवृत सूबेदार नैब सिंह का बेटा अग्निवीर जवान सुखविंदर सिंह जम्मू व कश्मीर में ड्यूटी के दौरान बलिदान हो गए। बलिदान सुखविंदर सिंह एक वर्ष पहले ही भर्ती हुआ था। वह अविवाहित था। सुखविंदर सिंह का पार्थिव शव आज उनके गांव मेहता में आ चुका है व अंतिम संस्कार ग्यारह बजे होगा।

By Jagran News Edited By: Prince Sharma Wed, 17 Apr 2024 05:07 PM (IST)
बरनाला का अग्निवीर जवान जम्मू-कश्मीर में ड्यूटी के दौरान शहीद

हेमंत राजू, बरनाला। तपा के नजदीकी गांव मेहता के युवक सुखविंदर सिंह पुत्र सेवानिवृत्त सूबेदार नायब सिंह जो कि लगभग डेढ़ साल पहले भारतीय सेना में अग्नि वीर भर्ती हुआ था। जिनकी ड्यूटी जम्मू-कश्मीर के कालू चक चार ट्रेनिंग ऑल यूनिट में लगाई गई थी।

अग्नि वीर जवान जम्मू व कश्मीर में ड्यूटी के दौरान बलिदान

अग्नि वीर जवान सुखविंदर सिंह जम्मू व कश्मीर में ड्यूटी के दौरान बलिदान हो गए। माता-पिता ने सुखविंदर सिंह को शिक्षा देकर सुखविंदर सिंह को सेना में भर्ती करवाया था, लेकिन उन्हें यह नहीं पता था कि एक साल 11 महीने बाद उनका बेटा बलिदान हो जाएगा।

 बलिदानी के शव को सेना के जवानों ने लाया गांव

बलिदानी सुखविंदर सिंह के मृतक शव को सेना के जवानों द्वारा गांव मेहता के श्मशानघाट में लाया गया। जहां संस्कार के दाैरान एसडीएम पूनमप्रीत कौर, डीएसपी डाक्टर मानवजीत सिंह सिंधू, इंस्पेक्टर कुलजिंदर सिंह ग्रेवाल, सूबेदार परसन सिंह, हौलदार दर्शन सिंह, आशिक खान के अलावा बड़ी संख्या में गांवों के पंच-सरपंच उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें: Punjab Crime News: दुबई से चंडीगढ़ आई फ्लाइट में आरोपी पगड़ी में ले जा रहा था सोना, कस्टम विभाग ने चेकिंग के दौरान दबोचा

पंजाब सरकार द्वारा परिवार को दिलाया जाएगा उचित मुआवजा

जानकारी के अनुसार मृतक का भाई कनाडा में रहता था। इस मौके पर हलका भदौड़ से विधायक लाभ सिंह उगोके ने कहा कि पंजाब सरकार द्वारा परिवार को मुआवजा दिलाया जाएगा। इस मौके पर एसडीएम पूनमप्रीत कौर ने कहा कि कागजी कार्रवाई कर इसे उच्च अधिकारियों को भेजा जाएगा।

परिवार का जो भी हक होगा, उसे हर हाल में दिलाया जाएगा। इस मौके पर सैनिक जवानों के अलावा उधम सिंह, मंजीत सिंह, मास्टर गुरविंदर सिंह, मोहना सिंह के अलावा परिवार के सदस्य व रिश्तेदार उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें: Punjab News : साधु बनकर 35 साल जंगलों में छिपता रहा मर्डर का आरोपी, पुलिस पहुंची तो फटी रह गईं आंखें और फिर...