जागरण संवाददाता, बरनाला :

गांव ठुल्लीवाल में एफसीआई खरीद एजेंसी द्वारा धान की खरीद नहीं किए जाने को लेकर गुस्साए किसानों ने पूर्व ब्लाक समिति मैंबर जरनैल सिंह भोला, पंच परमिन्दर सिंह समी ठुल्लीवाल के नेतृत्व में सरकार व अधिकारियों खिलाफ नारेबाजी कर रोष प्रदर्शन किया। इस अवसर पर पूर्व ब्लाक समिति मेंबर जरनैल सिंह भोला, पंच परमिन्दर सिंह, निरभै सिंह ठुल्लीवाल, किसान जोरा सिंह, बलबीर सिंह ने कहा कि पंजाब सरकार व मंडी बोर्ड द्वारा एक तरफ तो मंडियों में उचित प्रबंध करने के अलावा किसानों को मंडियों में धान की खरीद करने समय कोई मुश्किल पेश नहीं आने के दावे किए जा रहे हैं, परन्तु दूसरी तरफ मार्केट कमेटी महल कलां अधीन पड़ते गांव ठुल्लीवाल के खरीद केंद्र में धान की फसल बेचने के लिए आए किसानों की फसल को खरीद एजेंसी द्वारा खरीद नहीं किए जाने को को लेकर किसान मंडियों में परेशान हो रहे हैं। किसानों ने धान की खरीद नहीं किए जाने को लेकर गांव के गणमान्य को साथ लेकर विगत दिनों एजेंसी के संबंधित अधिकारियों को मिल कर किसानों को आ रही मुश्किलों संबंधी अवगत करवाया व तुरंत खरीद शुरू करवाने की मांग की गई थी परन्तु अधिकारियों ने लगातार आनाकानी किए जाने कारण किसानों को परेशान किया जा रहा है। उक्त नेताओं ने पंजाब सरकार से मांग की कि खरीद केंद्र गांव ठुल्लीवाल में एफसीआई खरीद एजेंसी को बदल कर पंजाब सरकार की खरीद एजेंसी के द्वारा धान की तुरंत खरीद शुरू करवाई जाएं। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर खरीद केंद्र में धान की खरीद शुरू नहीं करवाई तो किसानों को साथ लेकर तीव्र संघर्ष शुरु किया जाएगा। इस अवसर पर किसान सुरजीत सिंह, मक्खण सिंह, चंद सिंह, देव सिंह, बलवीर सिंह, मनदीप सिंह, जगतार सिंह, मेजर सिंह, आदि भी उपस्थित थे।

प्रबंध कम होने से आ रही मुश्किल

एफसीआई के इंस्पेक्टर गुरमीत सिंह ने कहा कि कोई उपयुक्त प्रबंध नहीं होने के कारण धान की खरीद करने में मुश्किल आ रही है। जल्द शुरू होगा काम - डीएफओ हरजीत कौर ने कहा कि इस मसले का जल्द समाधान करके धान की खरीद का काम शुरू करवाया जाएगा।

सभी विभागों को कहा जाएगा : डीसी

डीसी बरनाला तेज प्रताप सिंह फूलका ने कहा कि संबंधित विभाग के अधिकारियों के साथ मीटिग करके समस्या का समाधान करवा दिया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!