संवाद सूत्र, ब्यास

खलचियां थानांतर्गत पड़ते छजलवड्डी गांव में टैक्सी चालक परमिदर सिंह की हत्या उसके महिला मित्र के मंगेतर ने करवाई थी। पुलिस ने पांचवें दिन मामले सुलझाते हुए दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

डीएसपी बाबा बकाला हरकृष्ण सिंह ने मंगलवार को प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि 22 नवंबर की रात छज्जलवड्डी के परमिदर सिंह उर्फ राजू की कुछ लोगों ने हत्या कर दी थी। परमिदर सिंह पेश से टैक्सी चालक था और उसके परिवार ने कुछ समय पहले उसे इनोवा खरीदकर दी थी। घटना के बाद खलचियां थाने की पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था।

जब इंस्पेक्टर सरवनपाल सिंह रंधावा ने जांच की तो संदेह के आधार पर अमृतपाल सिंह और उसके दोस्त हरनेक सिंह निवासी छजलवड्डी को राउंडअप कर लिया गया। पुलिस जांच में दोनों हत्यारोपितों ने स्वीकार किया है कि उन्होंने मिलकर परमिदर सिंह की हत्या कर दी। क्योंकि अमृतपाल सिंह की कुछ समय पहले तिम्मोवाल गांव निवासी परवीन कौर के साथ मंगनी हुई थी। परवीन कौर की मृतक ( परमिदर सिंह) संग दोस्ती थी। लेकिन अमृतपाल सिंह को यह किसी भी कीमत पर गंवारा नही था कि उसकी मंगेतर के साथ कोई बात करे।

विगत शुक्रवार की रात दोनों आरोपित टैक्सी चालक को परवीन कौर से दूर रहने की धमकी देने गया था। लेकिन वहां दोनों में विवाद हो गया। तेजधार हथियारों से अमृतपाल ने अपने दोस्त के साथ मिलकर तेजधार हथियार से उसकी हत्या कर दी थी। पुलिस ने आरोपितों को अदालत में पेश कर दो दिन का रिमांड लिया है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!