जागरण संवाददाता, अमृतसर

शहर में क‌र्फ्यू के बीच बाइक सवार लुटेरों ने मंगलवार की रात गोलियां चलाते हुए एक के बाद एक तीन वारदातों को अंजाम दिया। बेखौफ लुटेरों के सामने सड़कों पर तैनात पुलिस भी बौनी साबित हुई। पुलिस ने तीनों मामले दर्ज कर लिए हैं। एक वारदात में घायल हुए प्रापर्टी डीलर प्रदीप सिंह कंडा को गंभीर हालत में निजी अस्पताल में दाखिल करवाया गया है। पुलिस कमिश्नर ने एडीसीपी हरपाल सिंह को जल्द से जल्द आरोपितों को काबू करने के आदेश दिए हैं।

कोट आत्मा राम निवासी प्रदीप सिंह कंडा ने बताया कि मंगलवार की रात वह अपने बीमार रिश्तेदार का हाल जानकर घर लौट रहा था। सुल्तानविड रोड स्थित कोट करनैल सिंह इलाके में बाइक पर सवार तीन युवकों ने उसे घेर लिया। एक लुटेरे ने पिस्तौल निकालकर उनकी टांग पर गोली मार दी। जैसे ही वह सड़क पर गिरे तो अन्य लुटेरे ने उनकी जेब से मोबाइल और पांच हजार रुपये लूट लिए। तीनों लुटेरे गोलियां चलाते हुए फरार हो गए। काफी देर तक जब वह घर नहीं पहुंचे तो उनकी पत्नी ने उनके नंबर पर फोन किया। घंटी बजते ही लुटेरे ने फोन उठाया और उसे धमकाने लगे। लुटेरों ने महिला को धमकाया कि तेरे पति को गोली मार दी और वह कोट करनैल सिंह के पास पड़ा है। अगर उसने पुलिस को शिकायत की तो वह उसे भी गोली मार देंगे। इसके बाद प्रदीप सिंह की पत्नी बेटे दीपजोत सिंह के साथ घटनास्थल पर पहुंची और घायल प्रदीप सिंह को अस्पताल में दाखिल करवाया। माल मंडी के बाहर एक्टिवा व मोबाइल लूटा

वारदात से लगभग 20 मिनट पहले दो बाइक पर सवार चार युवकों ने माल मंडी के बाहर एक्टिवा व मोबाइल लूट लिया। मोहकमपुरा पुलिस ने अज्ञात लोगों पर केस दर्ज किया है। वेरका निवासी मंजीत सिंह ने पुलिस को बताया कि मंगलवार की रात दस बजे वह दोस्त बंटी के साथ एक्टिवा पर घर जा रहा था। माल मंडी के बाहर दो बाइक पर सवार चार युवकों ने उसे घेर लिया। दो लुटेरों ने पिस्तौल निकालकर जान से मारने की धमकी दी और जेब में जो कुछ भी है, उनके हवाले करने को कहा। विरोध करने लुटेरे हाथापाई पर उतर आए। आरोपितों ने एक्टिवा और मोबाइल लूट लिया और फरार हो गए।

सिलेंडर डिलीवर करने जा रहे कारिदों से 67 हजार लूटे

तरसिक्का थानांतर्गत पड़ती धूलका-मुच्छल रोड पर बाइक पर सवार दो युवकों ने एलपीजी सिलेंडरों की डिलीवरी देने जा रहे दो युवकों पर पिस्तौल तान कर 67 हजार 650 रुपये लूट लिए। तरसिक्का पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। एसएसपी देहाती विक्रम दुग्गल ने बताया कि सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली जा रही है। छजलवडी गांव के रहने वाले सुलखन सिंह ने पुलिस को बताया कि वह बलदेव सिंह के साथ मिलकर लोगों के घरों में एलपीजी सिलेंडर पहुंचाता है। मंगलवार की दोपहर वह स्वराज माजदा में सिलेंडर लेकर धूलका- मुच्छल मार्ग पर पहुंचे थे। इस बीच, दो बाइक पर सवार दो युवक वहां पहुंचे और रास्ता पहुंचने लगे। एक लुटेरे ने पिस्तौल उनकी कनपटी पर तान दी और गाड़ी के डैशबोर्ड में रखे 67 हजार 650 रुपये लेकर फरार हो गए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!