जागरण संवाददाता, अमृतसर

पंजाब एंड चंडीगढ़ कॉलेज टीचर्स यूनियन (पीसीसीटीयू) के सभी डीएवी कॉलेजों के अध्यापकों ने दूसरे दिन भी काले बिल्ले लगाकर प्रदर्शन किया। अध्यापकों का कहना है कि अपनी चिरलंबित मांगों को लेकर डीएवी मैनेजिग कमेटी नई दिल्ली द्वारा पूरा न करने की वजह से उन्हें मजबूरन संघर्ष का रास्ता अपनाना पड़ा है। जिला प्रधान डॉ. बीबी यादव ने बताया कि डीएवी कॉलेज सहित, बीबीके डीएवी कॉलेज और डीएवी कॉलेज ऑफ एजुकेशन के समूह अध्यापकों ने अपनी जायज मांगों को लागू करवाने के लिए मोर्चा लगा रखा है। अध्यापकों के पदोन्नति के केस पिछले लंबे समय से लटकते आ रहे हैं, जिन्हें मैनेजिग कमेटी लागू करने में टाल-मटोल कर रही है। इससे अध्यापकों में रोष है। डीएवी कॉलेज के प्रधान डॉ. गुरदास सिंह सेखों, उपप्रधान डॉ. मलकीत सिंह और महासचिव डॉ. मनीष गुप्ता ने बताया कि संघर्ष को नया रूप देने के मकसद से मंगलवार को जालंधर में उनकी केंद्रीय कमेटी की बैठक हुई है, जिसके तहत आने वाले दिनों में मोर्चा लगाया जाएगा। इस मौके पर डेजी शर्मा, रजनी खन्ना, आशु विज, अमनजोत कौर, उल्लास चोपड़ा, हरसिमरन कौर, गुरजीत सिंह सिद्धू, बीएस बल, विक्रम चौधरी, मदन मोहन, अजय कुमार, रवि शर्मा, अनीता शर्मा, जेजे महेंद्रू, समीर कालिया, विक्रम शर्मा आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!