जासं, अमृतसर : भगवान वाल्मीकि के जन्म दिवस पर राज्य स्तरीय समागम 31 अक्टूबर को वाल्मीकि तीर्थ पर मनाया जायगा। वहीं मुख्यमंत्री के नेतृत्व में यह दिवस राज्यभर में मनाया जाएगा। सभ्याचारक मामलों के मंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने वीरवार को आयोजित अधिकारियों की बैठक में समागम की तैयारियों का जायजा लेते हुए कही। इससे पहले उन्होंने वाल्मीकि तीर्थ तथा श्री दरबार साहिब में माथा टेका। उन्होंने कहा कि इस दिन प्रदेशभर में संगत आनलाइन समागम में हिस्सा लेंगी। उन्होंने कहा कि इस पवित्र दिवस के मौके पर रामतीर्थ स्थित आइटीआइ और पैनोरमा की भी शुरुआत करेंगे। उन्होंने बताया कि भगवान वाल्मीकि स्थल के सुंदरीकरण के लिए 55 करोड़ रुपये के अतिरिक्त फंड को मंजूरी मिल चुकी है। यह फंड पहले से रामतीर्थ के विकास पर खर्च किए जा चुके 195.76 करोड़ रुपये से अलग हैं। चन्नी ने बताया कि सभी धर्मों के श्रद्धालुओं के लिए इस स्थान पर 30 करोड़ की लागत से पैनोरमा तैयार किया जाएगा। जिसमें महाकाव्य रामायण की रचना करने वाले भगवान वाल्मीकि के जीवन पर शिक्षाओं पर दर्शाया जाएगा। इसके अलावा बाकी फंड रख-रखाव पर खर्च किए जाएंगे। इस अवसर पर विधायक डा. राज कुमार वेरका, सीनियर डिप्टी मेयर रमन बख्शी, सभ्याचारक विभाग के डायरेक्टर लखमीर सिंह, डिप्टी कमिश्नर गुरप्रीत सिंह खैहरा, एडीसी डा. हिमांशु अग्रवाल, एसडीएम डा. दीपक भाटिया, डिप्टी डायरेक्टर रजत ओबराय, सहायक कमिश्नर अनमजोत कौर भी उपस्थित थे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस