र¨वदर शर्मा, अमृतसर

पंजाब के मुख्य सचिव करण अवतार ¨सह बराड़ ने कहा भारत सरकार की ओर से अटारी पर इंटेग्रेटेड चेक पोस्ट (आईसीपी) बनाने से दोनों देशों के बीच कारोबार बड़ा है। भारत-पाक के बीच कारोबार और बढ़े इसके लिए पंजाब सरकार ने वेयरहाउ¨सग के साथ मिलकर आईसीपी अटारी का विस्तार करने का फैसला किया है।

पंजाब सरकार के मुख्य सचिव करण अवतार ¨सह बराड़ शनिवार को यहां रंजीत एवेन्यू में पीएचडी चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री द्वारा आयोजित किए जा रहे पाइटैक्स-2018 के तीसरे दिन ट्रेड एक्सपो का अवलोकन करने के बाद पत्रकारों के साथ बातचीत कर रहे थे। पंजाब सरकार के मुख्य सचिव बराड़ ने कहा कि आईसीपी के विस्तार के लिए काम शुरू हो चुका है। आईसीपी पर जनसेवाओं के विस्तार से दोनों देशों के कारोबारियों को काफी मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि भारत की ओर से भारत-पाकिस्तान सीमा पर आईसीपी का निर्माण किए जाने के बाद यहां आवागमन काफी बढ़ गया है। वहीं उन्होंने कहा कि भारत व पाकिस्तान सरकार द्वारा तैयार किया जा रहा करतारपुर कॉरिडोर जहां दोनों देशों के धार्मिक संबंधों में सुधार लाएगा, वहीं कॉरिडोर के जरिए दोनों देशों के बीच नया रास्ता खुलेगा और कारोबार के लिए नई संभावनाएं बढ़ेंगी।

उन्होंने कहा कि भारत-पाक के बीच कारोबार को बढ़ावा दिए जाने से ही दोनों देशों के संबंध मधुर और मजबूत होंगे। जिसके लिए पंजाब सरकार पूरी तरह से प्रयासरत है। इसी दिशा में राज्य सरकार ने आईसीपी को विकसित करने का फैसला किया है। मुख्य सचिव बराड़ ने कहा कि पीएचडी चैंबर्स ऑफ कामर्स का यह आयोजन पंजाब की कारोबारी तरक्की में मील का पत्थर साबित होगा।

डिप्टी कमिश्नर कमलदीप ¨सह संघा ने मुख्य सचिव का यहां पहुंचने पर स्वागत करते हुए कहा कि सीमावर्ती जिलों के लोगों को पाइटैक्स का इंतजार रहता है। क्योंकि इसके जरिए वे विश्व स्तर के उत्पादों को देखते हैं और उनके लिए रोजगार के नए अवसर भी इसके जरिए पैदा होते हैं। पीएचडी चैंबर्स ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्री के पंजाब चैप्टर के चेयरमैन आरएस सचदेवा ने कहा कि राज्य सरकार के सहयोग से पाइटैक्स का हर साल विस्तार किया जा रहा है।

Posted By: Jagran