-रेलवे स्टेशन, बस अड्डे और सड़कों पर की गई वाहनों की चेकिग

फोटो नंबर- 54 से 59

जागरण संवाददाता, अमृतसर

छह अप्रैल को शुरू होने वाले नवरात्र के चलते जिला पुलिस ने सुरक्षा प्रबंधकों को लेकर कमर कस ली है। बुधवार को शहर के चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है। एडीसीपी संदीप कुमार मलिक और एडीसीपी जगजीत सिंह वालिया की अगुआई वाली टीमों ने रेलवे स्टेशन, बस अड्डे और शहर की सड़कों पर वाहनों की गहनता से जांच की। इसके साथ ही पुलिस फोर्स को आदेश दिया है कि संदिग्ध दिखाई देने वाले व्यक्ति को तुरंत गिरफ्तार कर लिया जाए। पुलिस अधिकारियों ने जनता से अपील की है कि अगर इलाके में शरारती तत्व या फिर कोई संदिग्ध दिखाई देता है तो इसकी जानकारी तुरंत पुलिस के कंट्रोल रूम या फिर पास के थाने में जाकर दें।

एडीसीपी जगजीत सिंह वालिया की अगुआई में रामबाग थाना, कोतवाली, बी डिवीजन थाना, सुल्तानविड थाना, गेट हकीमां थाने की पुलिस ने शहर के विभिन्न हिस्सों में सर्च अभियान चलाया। पुलिस टीम ने बस अड्डे पर बसों की तलाशी ली और यात्रियों को आगाह किया कि अगर आसपास कोई लावारिस वस्तु दिखाई दे तो उसे उठाने की बजाए पुलिस को सूचित करें। लावारिस वस्तु बम हो सकती है। इसके बाद एडीसीपी संदीप कुमार मलिक की अगुआई वाली टीम ने रेलवे स्टेशन पर चेकिग की। टिकट विडो, यात्री प्रतीक्षालय में यात्रियों के सामान की तलाशी ली गई। पुलिस कमिश्नर सुधांशु शेखर श्रीवास्तव ने बताया कि अन्य शहरों से आने वाले रास्तों पर पुलिस का पहरा बढ़ा दिया गया है। मंदिरों की सुरक्षा बढ़ाई गई

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि नवरात्र के मद्देनजर शहर के बड़े मंदिरों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। आयोजन स्थल श्री दुग्र्याणा मंदिर, माता लाल देवी मंदिर, लौंगा वाली माता मंदिर की सुरक्षा को देखते ही ज्यादा से ज्यादा नफरी तैनात की जाएगी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!