जागरण संवाददाता, अमृतसर: कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने बहुत ही बुरी तरीके से हर किसी को प्रभावित किया है। मगर अब लगातार केसों में कमी आ रही है। इसका नतीजा है कि शुक्रवार को 30 नए मरीज रिपोर्ट हुए है। इससे पहले वीरवार को 47 मरीज मिले थे। सुखद समाचार यह भी है कि किसी भी मरीज की जान नहीं गई जबकि रोजाना किसी न किसी मरीज की जान जाने की सूचनाएं मिल रही थी। वहीं पिछले 24 घंटे में 120 लोग स्वस्थ हो गए। अब जिले में कुल एक्टिव केसों की संख्या भी घट कर 473 हो गई है। पिछले साल से अभी तक संक्रमण को मात देने वाले लोगों की संख्या 44607 बताई जा रही है। जिले में कोरोना से मरने वालों की संख्या 1557 हो चुकी है।

वहीं तरनतारन जिले में कोरोना से मरने वालों की संख्या थमने का नाम नहीं ले रही। शुक्रवार को विभिन्न अस्पतालों में दो मरीजों की कोरोना से मौत हो गई। हालांकि कोरोना के तीन नए मामले भी सामने आए है। कुल मिलाकर दस दिन में जिले में कोरोना के 18 मरीजों की मौत हुई है। मरने वाले अधिकतर लोग ग्रामीण इलाकों से संबंधित है। 16 जून को जिले के तीन लोगों की कोरोना ने जान ली। 17 जून को चार लोगों की मौत हुई। वहीं 18 व 19 जून को एक-एक व्यक्ति की मौत हुई। यह सभी लोग देहात क्षेत्र से संबंधित थे। 20 जून का दिन डेढ़ माह में ऐसा था, जब कोरोना से कोई मौत नहीं हुई। हालांकि 21 जून को एक व 22 को तीन कोरोना मरीजों की मौत हुई। 23 जून को कोरोना से एक मरीज की मौत हुई। 24 जून को दो व 25 जून को दो लोगों की कोरोना ने जान ली। सिविल सर्जन डा. रोहित मेहता का कहना है कि देहात क्षेत्र से संबंधित लोगों की अधिक मौतें हो रही है। इसके चलते लोगों को चाहिए कि वह अपना टेस्ट करवाने से परहेज न करें।

Edited By: Jagran