अमृतसर [नवीन राजपूत]। स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने शुक्रवार को अमृतसर में हेरोइन तस्करी के बड़े गिरोह का पर्दाफाश कर छह लोगों को गिरफ्तार किया। यह गिरफ्तारी इटली से इंटरपोल और गुजरात पुलिस की सूचना के बाद हुई। दो चरणों में की गई कार्रवाई में पुलिस ने शिरोमणि अकाली दल के नेता व पंजाब सर्विस सेलेक्शन बोर्ड (पीएसएसबी) के पूर्व सदस्य अनवर मसीह की कोठी से 194 किलो हेरोइन व अन्य नशीले पदार्थ बरामद किए। पकड़े गए आरोपितों में अफगानिस्तान के अचिन ननगढ़हर जिले के अरमान बशअरमल और अमृतसर के बड़े कपड़ा कारोबारी अंकुश कपूर प्रमुख तौर पर शामिल हैं।

एडीजीपी एसटीएफ हरप्रीत सिंह सिद्धू और आइजी डॉ. कौस्तुभ शर्मा ने शुक्रवार शाम मीडिया को बताया कि पुलिस ने 29 जनवरी की रात अजनाला रोड के रहने वाले सुखबीर सिंह उर्फ हैपी और क्वींस रोड के बड़े कारोबारी अंकुश कपूर को ब्रीजा कार सहित गिरफ्तार किया था। तलाशी के दौरान आरोपितों के कब्जे से छह किलो हेरोइन मिली थी। अंकुश ने पूछताछ में स्वीकार किया कि उसने कुछ दिन पहले सुल्तानविंड रोड स्थित आकाश विहार में एक कोठी किराए पर ली थी, जहां अरमान नाम का अफगान नागरिक हेरोइन को केमिकल से साफ करके अन्य नशीले पाउडर मिलाता था।

आइजी कौस्तुभ शर्मा की अगुवाई को एआइजी रछपाल सिंह ने आकाश विहार की कोठी में छापा मारा। जांच में महिला की भूमिका के बारे में कुछ पता नहीं चला है। सुखबीर सिंह हैप्पी से रिवॉल्वर बरामद की गई है। इस खेप का 2019 में आइसीपी अटारी पर पकड़ी गई 534 किलो हेरोइन मामले से कोई संबंध नहीं है।

क्या-क्या मिला

-हेरोइन: 194 किलोग्राम

-केमिकल: 205 लीटर

-संदिग्ध पाउडर: 38.220 किलोग्राम

-कैफेन पाउडर: 25.865 किलोग्राम

-एक लाइसेंसी रिवॉल्वर

इनको किया गिरफ्तार

-अंकुश कपूर, कपड़ा कारोबारी (अमृतसर)

-अरमान बशअरमल, अफगानिस्तान

-सुखबीर सिंह हैप्पी (अमृतसर)

-सुखविंदर सिंह, अमृतसर के मॉल रोड स्थित तलवाकर जिम के ट्रेनर (नौशहरा खुर्द, अमृतसर)

-मेजर सिंह, (अमृतसर)

-तमन्ना गुप्ता, (यासीन रोड, अमृतसर)

मुझे कुछ मालूम नहीं: अनवर मसीह

शिरोमणि अकाली दल के नेता अनवर मसीह ने बताया कि उन्होंने लगभग एक महीना पहले कोठी नौशहरा खुर्द निवासी सुखविंदर सिंह को किराए पर दी थी। मुझे इस बारे में कुछ भी मालूम नहीं है। मैंने किराएदार से उसकी पहचान संबंधी सभी दस्तावेज और किरायानामा भी तैयार करवाया है। आरोपितों की पुलिस वेरिफिकेशन के बारे में वह चुप्पी साध गए। वहीं, एडीजीपी हरप्रीत सिंह ने बताया कि अगर किसी नेता का हाथ सामने आया तो उसे बक्शा नहीं जाएगा।

इटली से संधू के इशारे पर खेप बरामद

इटली पुलिस के हत्थे चढ़े अमृतसर के रंजीत एवेन्यू निवासी सिमरजीत सिंह संधू के इशारे पर ही एसटीएफ ने यह खेप बरामद की है। सिमरनजीत सिंह संधू को इंटरपोल की सहायता से इटली में गिरफ्तार किया गया था। उससे इस गिरोह के बारे में कई जानकारियां इंटरपोल को दीं। संधू 300 किलो हेरोइन के मामले में गुजरात पुलिस का वांछित है। पुलिस उसे भगोड़ा घोषित कर चुकी है, लेकिन वह किसी तरह भारत से बचकर इटली पहुंचने में कामयाब हो गया।

इटली पुलिस ने गुजरात पुलिस को इनपुट दिया था कि अमृतसर स्थित सुल्तानविंड क्षेत्र में अंकुश कपूर नाम का कपड़ा कारोबारी किराए की कोठी लेकर हेरोइन तस्करी कर रहा है। सिरमनजीत के इशारे पर ही अरमान कुछ दिन पहले दिल्ली एयरपोर्ट पर उतरा था। वह हेरोइन को केमिकल से साफ कर उसमें अन्य नशीले पाउडर मिलाकर आगे बेचने के लिए अमृतसर पहुंचा था। यह सूचना मिलने के बाद पंजाब एसटीएफ ने छापा मार कर गिरोह के सदस्यों को गिरफ्तार किया। हेरोइन की इतनी बड़ी खेप बरामद होने के बाद देश की कई बड़ी सुरक्षा एजेंसियोंं के अधिकारी शुक्रवार को अमृतसर पहुंच गए।

अरमान ने बनाई थी लैब

अफगान नागरिक अरमान ने कोठी में एक लैबोरेट्री बना रखी थी। उसे हेरोइन के बारे में काफी जानकारी है। वह हेरोइन को केमिकल से साफ कर उसमें दूसरे नशीले पदार्थ मिलाने में माहिर है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!