जागरण संवाददाता अमृतसर : फतेहपुर जेल में बंद हत्या के दो अलग-अलग मामलों में दो युवकों ने तेजधार हथियारों से एक दूसरे पर पूरी तरह से हमला कर दिया। हत्यारोपी तो नहीं हथियार के तौर पर चम्मचों को जमीन पर रगड़ कर तेज कर लिया था। इसके बाद दोनों ने एक दूसरे की गर्दन पर वार किए। घटना वीरवार रात की है। घायल हालत में दोनों को गुरु नानक देव अस्पताल में दाखिल करवाया गया।

छेहरटा के गुरुद्वारा के पास रहने वाला मनमीत सिंह से 27 जुलाई 2016 को किसी की हत्या हो गई थी। वाकया सुल्तानविंड रोड ईलाके का था बी डिवीजन थाने की पुलिस ने मनमीत और उसके साथियों पर हत्या का मामला दर्ज किया था। वहीं दूसरी तरफ रमदास थाना अंतर्गत पड़ते पंछियां गाव निवासी लवप्रीत सिंह भी हत्या के मामले में फताहपुर जेल में बंद है। लवप्रीत ने भिंडी सैदां इलाके में 2017 में एक युवक की हत्या कर उसका शव खुर्द-बुर्द कर दिया था। मनमीत सिंह और लवप्रीत सिंह दोनों फताहपुर जेल में बंद हैं। बताया जा रहा है कि पिछले कुछ दिनों से दोनों में रंजिश शुरू हो गई थी। दोनों ने एक दूसरे पर हमला करने के लिए पहले से तैयारी कर रखी थी। दोनों हत्यारोपी तो उन्हें चम्मचों को जमीन पर रगड़ कर दिखा कर रखा थ। वीरवार की रात जैसे ही वह अपनी-अपनी बैरकों से बाहर निकले तो पानी की बाल्टी को लेकर दोनों में विवाद छिड़ गया। दोनों ने एक-दूसरे पर तेजधार तीखे चम्मचों से वार कर दिया। पता चला है कि दोनों ने एक बार एक दूसरे की गर्दन ऊपर किए हैं। देखते ही देखते दोनों लहूलुहान हो गए और जेल प्रबंधन ने दोनों को गुरु नानक अस्पताल में दाखिल करवाया। डिप्टी जेल सुपरिंटेंडेंट हेमंत शर्मा ने बताया कि घटना के बारे में पुलिस को सूचित कर दिया गया है।

Posted By: Jagran