संस, अमृतसर : सोमवार को निर्जला एकादशी पर लोगों ने मंदिरों में मिट्टी का घड़ा, पक्खी, ठंडा मीठा जल पितरों को अर्पित किया। प्रात से ही मंदिरों में इस तरह की भावना लेकर लोग जा रहे थे। कई भक्त ने निर्जला एकादशी पर प्रात:काल से बिना पेयजल व खाने खाए व्रत रख कर भगवान श्री ठाकुर जी के दरबार में नतमस्तक होकर परिवार की सुख शांति के लिए आराधना की। महानगर में कई जगह पर निर्जला एकादशी पर लोगों ने ठंडे मीठे जल की छबील लगाई। भंडारे भी लगाए मंदिरों में भी ठाकुर जी को ठंडे मीठे जल का भोग लगाया गया। पुजारियों द्वारा पूजा अर्चना की गई। गद्दी श्री बाबा लाल दयाल कर्मो दियोढी में महंत अनंत दास जी महाराज के सानिध्य में निर्जला एकादशी पर पूजा अर्चना की गई। भक्तजनों ने बाबा लाल जी के दरबार में नतमस्तक होकर पूजा अर्चना की। महंत अनंत दास जी महाराज ने कहा कि ऐसे धार्मिक पर्व ही हमें अपनी पुरानी धार्मिक परंपरा के साथ जोड़ते हैं। निर्जला एकादशी वाले दिन जो भी भक्त जान सच्चे मन से ठंडे मीठे जल को ठाकुर जी के द्वारा अर्पित करके अपने पितरों को भेजते हैं। उससे उनके पितरों को इस गर्मी में राहत मिलती है। श्री आरती शिव दुर्गा मंदिर करतार नगर में परम पूज्य संत आरती देवा जी महाराज के सानिध्य में ठंडे मीठे जल की छबील लगाई गई। इस अवसर पर पंडित सुमित शास्त्री भी मौजूद थे। सिद्धपीठ माता लाल देवी भवन में भी भक्तों ने मां के दरबार में हाजिरी भरी। भगवान श्री विष्णु जी की पूजा अर्चना की। मंदिर के बाहर ठंडे मीठे जल की छबील लगाई गई। इस अवसर पर प्रधान विजय कुमार शर्मा, यशी राजा जोशी, कमलेश टीटू, महंत देवीदास, व अन्य शामिल थे। लारेंस रोड स्थित बांसल जी फूड प्लाजा की ओर से ठंडे मीठे जल की छबील लगाई गई। भंडारा भी लगाया गया। इस अवसर पर आनंद बांसल, रोहित बांसल व अन्य ने सेवा निभाई। शिवाला बोहड वाला जवाहर नगर, श्री रघुनाथ मंदिर विजयनगर, श्री हरि मंदिर मजीठा रोड, श्री गोपाल मंदिर कश्मीर एवेन्यू अन्य मंदिरों में भक्तों ने पूजा अर्चना की। निर्जला एकादशी पर बाजार में तरबूज, खरबूजा, आम के फल खूबी के इसके अलावा मिट्टी के घड़े भी खूब बिके। दुकानदार विजय कुमार ने कहा कि मिट्टी के घड़े पखियां ज्यादातर इस दिन ही बिक्री हैं।

Edited By: Jagran