जागरण संवाददाता, अमृतसर

सरकार द्वारा 2 रुपये प्रति किलो गरीबों को स्मार्ट कार्ड राशन स्कीम के तहत दी जाने वाली गेहू की खराब क्वालिटी की शिकायतों पर प्रशासन हरकत में आया। डिप्टी कमिश्नर कमलदीप ¨सह संघा की हिदायतों के बाद जिला सिविल सप्लाई कंट्रोलर रजनीश कुमारी द्वारा गठित टीम जांच करने वेरका हलका में पहुंची। वहीं जिला फूड कंट्रोलर रजनीश कुमारी ने गोदाम के इंचार्ज इंस्पेक्टर जग¨वदर ¨सह को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए इसका जवाब मांगा है।

सहायक फूड एंड सप्लाई अधिकारी अर्शदीप ¨सह की देखरेख में संबंधित इंस्पेक्टर ने शिकायत कर्ता की गेहूं की जांच में खराब गेहूं तो तुरंत

बदलवाया। जांच के दौरान सामने आया कि हाल ही में उक्त नंगली ओपन कांप्लेक्स गोदाम से 2 ट्रक सरकारी गेहूं जारी हुआ था। जिसमें सारी गेहूं की क्वालिटी बहुत ही खराब पाई गई।

फूड कंट्रोलर रजनीश कुमारी ने कहा कि स्मार्ट कार्ड राशन स्कीम के तहत दी जाने वाली गेहूं या आवंटन को लेकर आम लोगों की शिकायत के लिए कंट्रोल रूम स्थापित कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि अगर किसी व्यक्ति को सरकारी गेहूं बाबत किसी भी तरह की शिकायत है तो वह फोन नंबर 0183-2564966 पर संपर्क कर शिकायत दर्ज करवा सकता है। उन्होंने स्मार्ट कार्ड धारी लोगों को विश्वास दिलाया कि उनकी किसी भी तरह की शिकायत का 24 घंटों के भीतर निपटारा किया जाएगा।

Posted By: Jagran