विपिन कुमार राणा, अमृतसर

बस रेपिड ट्रांजिस्ट सिस्टम के तहत तैयार हो रही भंडारी पुल एक्सटेंशन का काम पूरा तो हो गया है, पर सियासी क्रेडिट में फंसी एक्सटेंशन को अभी भी उद्घाटन का इंतजार है। एक्सटेंशन के काम का श्रेय लेने को निकायमंत्री नवजोत ¨सह सिद्धू जहां कई बार इसकी प्रगति रिपोर्ट ले चुके हैं, वहीं राज्यसभा में इसका मामला उठाने वाले राज्यसभा सदस्य इंजीनियर श्वेत मलिक भी इस दौड़ में कहीं पीछे नहीं है। तैयार हुई रोड के साफ सफाई के काम को छोड़कर बाकी कुछ शेष नहीं बचा है। बस उद्घाटन का दिन तय होना है और यह सड़क शुरू हो जानी है।

भंडारी पुल एक्सटेंशन का 1125 मीटर लंबा फ्लाईओवर शुरू होने से वाल्ड सिटी और सिविल लाइन की कनेक्टीविटी आसान होगी। भंडारी पुल पर लगने वाले लंबे-लंबे ट्रैफिक जामों से लोगों को निजात मिलेगी। भंडारी पुल वन वे होकर सिर्फ चढ़ने के लिए इस्तेमाल होगा और फ्लाईओवर से जालंधर जीटी रोड, हालगेट,रामबाग, हाथी गेट से आने वाली ट्रैफिक रेलवे स्टेशन एंट्री गेट से पहले उतरेगी। फ्लाईओवर शुरू होने से कूपर रोड स्थित ज्ञानी टी स्टाल की तरफ से भंडारी पुल पर चढ़ने वाली ट्रैफिक का 60 फीसदी लोड कम हो जाएगा और भंडारी पुल से रेलवे स्टेशन की तरफ वाहन उतरने की बजाय कोर्ट रोड की तरफ से उसी रास्ते से वाहन ऊपर चढ़ सकेंगे। पुल पर कंक्रीट, बिटुमन डालने का काम पूरा हो गया है और अब थर्मों प्लास्टिक की लाइनों के अलावा साफ सफाई का ही काम होना बाकी है। पीडब्ल्यूडी के एक्सईएन बीएस तुली ने बताया कि भंडारी फ्लाईओवर बन कर तैयार हो चुका है। साफ सफाई के अलावा थर्मों प्लास्टिक पेंट बाकी रह गया है। इसे लोगों के लिए खोलने के लिए अभी तारीख तय होना बाकी है।

रेलवे की मंजूरी ने 3 साल लेट किया प्रोजेक्ट

मार्च 2014 में रेलवे की मंजूरी के एक माह बाद यानी अप्रैल 2014 में प्रोजेक्ट शुरू हुआ था। जिसे एक साल में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया था। रेलवे ओवरब्रिज के काम को लेकर रेल मंत्रालय से संबंधित मंजूरी के चक्कर में उलझते हुए यह प्रोजेक्ट 3 साल लेट हो गया था। लेकिन समय-समय तक तकनीकी अड़चनों की वजह से प्रोजेक्ट लेट होता गया और अब यह बनकर तैयार हो गया है।

स्टेशन के बाहर बनेंगे जाम के हालात

फ्लाई ओवर के ऊपर से जीटी रोड जालंधर, हालगेट, हाथी गेट, रामबाग की तरफ से आने वाले वाहन रेलवे स्टेशन एंट्री गेट से 350 मीटर पहले उतरेंगे। इससे रेलवे स्टेशन और अटारी वाघा, सिविल लाइन और अजनाला की तरफ जाने वाले वाहन एक साथ उतरेंगे, जो कि जाम का कारण बनेंगे। अगर रेलवे स्टेशन के पास रैंप उतारने के साथ ही फ्लाईओवर को थोड़ा आगे बढ़ाया जाता तो फिर ट्रैफिक का लोड रेलवे स्टेशन एंट्री गेट के नजदीक नहीं बढ़ता।

नए साल में तोहफा देने की थी घोषणा

भंडारी पुल एक्सटेंशन शहरवासियों को साल 2018 में फरवरी तक लोगों को समर्पित करने की पहले घोषणा हुई थी। लेकिन हॉट मिक्स प्लांट बंद होने की वजह से फिर एक्सटेंशन को अप्रैल, मई और फिर जून में शुरू करने की घोषणा हुई। जून प्रथम सप्ताह में एक्सटेंशन पर बिटुमन की लेयर डालने का काम राज्यसभा सदस्य श्वेत मलिक ने शुरू करवाया। चंडीगढ़ में बीआरटीएस प्रोजेक्ट की हुई रिव्यू मी¨टग में भी इसे जुलाई माह में शुरू करने की घोषणा की गई है।

फ्लाई ओवर के अहम रुट..

—एलिवेटेड रोड से भंडारी पुल पर चढ़ने वाले रैंप के खत्म होने से थोड़ा पहले ही साइड से शुरू हुए फ्लाईओवर और हालगेट के नजदीक से बना फ्लाईओवर रेलवे ओवरब्रिज के ऊपर जाकर मिल जाएगा। इन दोनों से जीटी रोड जालंधर, हालगेट, रामबाग और हाथी गेट की तरफ से आने वाला ट्रैफिक रेलवे स्टेशन एंट्री गेट से 350 मीटर पहले उतरेगा।

—एलिवेटेड रोड से पहले की तरह ही हालगेट की तरफ जाया जा सकेगा और नीचे से पुरानी सब्जी मंडी में बनाई गई स्लिप रोड से भी हालगेट की तरफ जाया जा सकेगा।

—पुराने भंडारी पुल पर ज्ञानी टी स्टाल और वर्तमान में रेलवे स्टेशन की तरफ उतरने की जगह दोनों तरफ से वाहन ऊपर जाएंगे।

—फ्लाईओवर शुरू होने के बाद हालगेट से लारेंस रोड जाने के लिए वाहनों को रेलवे स्टेशन के एक्जिट गेट या कोका कोला चौक से यू टर्न लेकर जा सकेंगे।

—हटाए जा चुके पौड़ियां वाला पुल की तरफ से पुराने भंडारी पुल पर चढ़कर मॉल आफ अमृतसर की तरफ जा सकेंगे, इस पुल का इस्तेमाल रेलवे स्टेशन की तरफ जाने के लिए नहीं किया जा सकेगा।

—रेलवे एंट्री गेट के सामने बने कोका कोला चौक को तोड़ कर कोर्ट रोड की तरफ जाने के लिए मौजूदा करीब 4 मीटर चौड़े रास्ते को बढ़ाकर 12 मीटर तक चौड़ा किया जाएगा, ताकि फ्लाईओवर से जीटी रोड, रामबाग, हाथी गेट और हालगेट की तरफ से आने वाली ट्रैफिक का फ्लो जाम लगने का कारण न बने।

—छेहरटा से आने वाले वाहनों को रेलवे स्टेशन एंट्री गेट में जाने के लिए भी इसी जगह से फ्री यू टर्न (बिना रेड लाइट) के दिया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!