जागरण संवाददाता, अमृतसर : डिप्टी कमिश्नर शिवदुलार सिंह ढिल्लों ने कहा कि 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' अभियान के तहत लड़कियों के कम हो रहे लिंग अनुपात में सुधार के लिए जिला में 120 जागरूकता कैंप लगाए जाएंगे। इन कैंप महिला व बाल विकास, सेहत, शिक्षा, पंचायती राज और देहाती विकास विभाग के साथ-साथ पुलिस विभाग की भूमिका महत्वपूर्ण रहेगी। डीसी ने यह बात शुक्रवार को जिला परिषद के कांफ्रेंस हाल में इस अभियान के तहत जिला टास्क फोर्स की अधिकारियों की बैठक में कही।

डीसी ढिल्लों ने कहा कि इसका मकसद लिग आधारित, भ्रूण हत्या को खत्म करना, लड़की को बचाना और उसे सुरक्षा प्रदान कर शिक्षित कर सशक्तिकरण करना है। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को हिदायत दी कि वह इस अभियान में अपनी भूमिका प्रभावशाली ढंग से निभाएं।

अधिकारियों की बैठक में डीएसपी देहाती रविंदर सिंह ने बताया कि पुलिस विभाग की तरफ से लड़कियों की सुरक्षा के लिए शक्ति टीमों का गठन किया गया है। कोई भी लड़की या महिला को किसी तरह की मुश्किल पेश आने पर वह कंट्रोल रूम के हैल्प लाइन नंबर 112 या 97800-03387 पर संपर्क कर सकती है। संपर्क करने पर तुरंत बाद ही शक्ति टीमें एक्शन में आएंगी और मौके पर पहुंच कर उसकी सहायता की जाएगी। इस मौके पर डिप्टी मेडिकल कमिश्नर डॉ. प्रभदीप जौहल, जिला प्रोग्राम अधिकारी हरदीप कौर, उप जिला शिक्षा अधिकारी राजेश शर्मा, नोडल अधिकारी जसबीर सिंह गिल आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!