15 जनवरी को कंपनी की अलग-अलग फर्मो से इकट्ठा की 3.18 लाख की राशि साथी संग मिल की थी गायब

फोटो-48

जागरण संवाददाता, अमृतसर

एसीपी नॉर्थ सरबजीत ¨सह बाजवा ने बताया कि फतेहगढ़ चूड़ियां स्थित रेडिएट कंपनी के नशेड़ी मुलाजिम ने मोटरसाइकिल सवार अज्ञात लुटेरों द्वारा 3.18 लाख रुपये लूट कर ले जाने की झूठी कहानी बनाई और उक्त राशि को गबन करने का प्रयास किया। इसमें उसके एक नशेड़ी साथी ने भी सहयोग किया। यह खुलासा पुलिस की जांच में सामने आया और पुलिस ने इस मामले में दोनों को गिरफ्तार कर 2.32 लाख रुपये बरामद कर लिए । एसीपी नॉर्थ बाजवा ने यह खुलासा वीरवार को यहां आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में किया।

एसीपी बाजवा ने बताया कि प्लाह साहिब रोड स्थित फ्रेंड्स एवेन्यू सी ब्लाक निवासी रा¨जदर पाल ¨सह फतेहगढ़ चूड़ियां रोड स्थित रेडिएट कंपनी में काम करता था। जो अलग-अलग फर्मों से रोजाना पैसे इकट्ठे कर कंपनी में जमा करवाता था। 15 जनवरी को रा¨जदर पाल ¨सह ने अलग-अलग फर्मो से 3 लाख 18 हजार रुपये इकट्ठा किए मगर उक्त राशि कंपनी में जमा नहीं करवाई। इस मुलाजिम ने कंपनी में पहुंच कर कहा कि एयरपोर्ट रोड पर स्थित आइवीवाई अस्पताल के पास मोटरसाइकिल सवार दो लुटेरों ने उससे कंपनी का उक्त पैसा लूट लिया।

बाजवा ने बताया कि मुलाजिम के बताए के मुताबिक कंपनी के मैनेजर रिटायर्ड सूबेदार दिलबाग ¨सह के बयानों पर अज्ञात बाइक सवार लुटेरों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। पुलिस ने जब मुलाजिम रा¨जदर पाल ¨सह से पूछताछ की तो वह टूट गया और लूट की झूठी कहानी बयां कर दी। जिसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार करके मोटरसाइकिल की हेडलाइट और बाक्स में 1.76 लाख रुपये बरामद कर लिए। इसके बाद इसकी निशानदेही पर उसके दूसरे साथी विक्रमजीत ¨सह उर्फ विक्की को गिरफ्तार कर 76 हजार रुपये बरामद किए। इस तरह पुलिस ने लूट की गुत्थी सुलझाते हुए 2.32 लाख रुपये बरामद करने के बाद आरोपितों को अदालत में पेश कर दिया। र¨वदर शर्मा

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!