अमनदीप ¨सह, अमृतसर

नेशनल हाईवे अथॉरिटी आफ इंडिया की ओर से गोल्डन गेट-दोबुर्जी से लेकर नारायणगढ़ तक बनाया जा रहा बाईपास लोगों के लिए लंबे समय से परेशानी बना हुआ है। 2016 में शुरू किए गए इस प्रोजेक्ट में अभी तक पूरा नहीं किया गया है। जिसमें से बाईपास पर बन रहे फ्लाई ओवरों की वजह से लोग परेशान हैं। मजीठा रोड बाईपास पर बने रहे फ्लाई ओवर में तो सर्विस लेन ही अथॉरिटी भूल गई है। एक साइड की सर्विस लेन चलने से लोग परेशान हैं।

इस निर्माण की वजह से सर्विस लेन के लिए दोनों तरफ से सड़क को उखाड़ा गया है। एक तरफ काम बिल्कुल बंद है और वहां दलदल वाले हालात बने हुए हैं। दूसरी तरफ ¨सगल लेन से ही सारा ट्रैफिक गुजर रहा है। बाईपास होने की वजह से जब बड़े वाहनों का आवाजाही होती है तो आसपास की दर्जन आबादियों के लोगों को ट्रैफिक जाम का दंश झेलना पड़ता है। निर्माण की वजह से रोजाना धूल, मिट्टी, पत्थर व खड्डे जैसे बने हालातों से लोगों को दो चार होना पड़ रहा है। रात के समय स्ट्रीट लाइट की व्यवस्था न होने से हालात ओर विकट हो जाते है।

एक साल देरी से चल रहा प्रोजेक्ट

229.34 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले इन फ्लाई ओवरों का काम जून 2019 तक पूरा होना है। पहले यह प्रोजेक्ट 30 नवंबर 2016 तक खत्म होना था, लेकिन फारेस्ट डिपार्टमेंट से परमिशन के कारण इस प्रोजेक्ट पर काम ही एक साल देरी से शुरू हुआ। प्रोजेक्ट को पूरा करने की अंतिम तारीख 31 दिसंबर 2017 तय की गई, जो एक बार फिर से बढ़ाकर जून 2019 कर दी गई थी। —————————————

कोट्स...

फोटो: ट्रैफिक के कारण लोग होते हें हादसों का शिकार

क्षेत्र वासी संदीप कुमार ने बताया फ्लाई ओवर सुविधा के लिए बनाया जा रहा है, जा फिर लोगों को मुश्किलों में डालने के लिए। एक साइड को पूरी तरह से बंद किया गया है। लोग एक ही साइड से गुजरने से एक तो ट्रैफिक जाम वहीं हादसों का कारण बनते हैं।

फोटो: मजीठा बाईपास पूरी तरह से बना न होने से हो रही परेशानी

मनमीत नरूला ने बताया कि कंपनियों को प्रोजेक्ट का काम दे तो दिया जाता है। लेकिन कंपनियों की ढीली रफ्तार के चलते लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। फ्लाई ओवर पूरी तरह से बना ना होने से लोगों को मजीठा बाईपास से परेशानी हो रही है।

फोटो: हल्की सी बारिश होने पर बन जाती है मुसीबत

गुरदेव ¨सह ने बताया कि मजीठा बाइपास में ज्यादातर जाम ही रहता है। सर्विस लाइन ना होने से लोगों को एक ही साइड से गुजरना पड़ता है। जिस कारण परेशानी बढ़ जाती है। हल्की सी बारिश होने पर इस क्षेत्र में लोग हादसों का कारण बनते है।

पैसों का लेनदेन है, कंपनी नहीं डाल रही सीवरेज

जायका कंपनी का कोई पैसों का लेनदेन है जिसके चलते वो सीवरेज नहीं डाल रही। इसके चलते लोगों को सर्विस लेन देने में परेशानी आ रही है। इस समस्या का हल जल्द ही निकाल दिया जाएगा।

—वीगणेश, प्रोजेक्ट इंचार्ज एनएचएआई

बाक्स

समस्या को लेकर लोग दे सकते हैं अपनी राय ..

जागरण अभियान के तहत बाईपास पर बन रहे फ्लाई ओवरों को लेकर अगर किसी को कोई परेशानी आती है या अपनी समस्या प्रशासन तक पहुंचाना चाहते हैं तो फोन नंबर 9780192943 पर संपर्क कर सकते हैं।

Posted By: Jagran