अखिलेश ¨सह यादव, अमृतसर

गुरु नगरी के चार अध्यापकों को स्टेट अवार्ड से नवाजा जाएगा। यह अवार्ड पांच सितंबर को प्रदेश सरकार द्वारा आयोजित किए जाने वाले समारोह में दिया जाएगा। अवार्ड लेने वालों में इस बार तीन अध्यापक सेकेंडरी ¨वग व एक प्राइमरी ¨वग से हैं। इनमें तीन अध्यापक सीमावर्ती व ग्रामीण क्षेत्रों से संबंधित हैं।

सम्मानित किए जाने वाले अध्यापकों की सूची में सरकारी सीसे स्कूल भकना कलां के हरमीत ¨सह भकना, सरकारी हाई स्कूल शहूरा के सुरजीत ¨सह, सरकारी कन्या सीसे स्कूल माहना ¨सह रोड के हर¨जदर कुमार व सरकारी एलिमेंट्री स्कूल के अध्यापक त¨जदर ¨सह सोही शामिल हैं। डीईओ सेकेंडरी सल¨वदर ¨सह समरा ने इन अध्यापकों को बधाई दी है और उम्मीद प्रकट की है कि यह अध्यापक सम्मान लेने के बाद सरकारी स्कूलों में शिक्षा का स्तर और मजबूत करने के लिए काम करेंगे। पढ़ो पंजाब प्रोजक्ट में अध्यापक त¨जदर ¨सह सोही का स्कूल का शानदार प्रदर्शन

फोटो 26

सरकारी एलिमेंट्री स्कूल लिद्दड़ में हेड टीचर के रूप में त¨जदर ¨सह सोही कार्यरत हैं। यह स्कूल पढ़ो पंजाब प्रोजेक्ट के परिणाम में जिले व स्टेट में शानदार रहा है। वह बच्चों को राज्य स्तरीय शैक्षणिक व खेल कूद गतिविधियों में भाग लेने के लिए लेकर गए। सब डिवीजनल स्तर पर 15 अगस्त व 26 जनवरी के होने वाले कार्यक्रम में इस स्कूल के बच्चे नियमित तौर पर भाग लेते हैं। निजी स्कूलों की तर्ज पर सरकारी स्कूल को बनाया। बच्चों को आइकार्ड, यूनिफार्म, टाई व बेल्ट अपने स्तर पर मुहैया कराई। स्मार्ट स्कूल में लिदड़ एलिमेंट्री स्कूल को शामिल किया गया है। ब्लाक में यह स्कूल मॉडल घोषित हुआ है। पर्यावरण के प्रहरी हैं सुरजीत शहूरा

फोटो-27

एसएस मास्टर सुरजीत शहूरा का सरकारी हाई स्कूल शहूरा बॉर्डर से सिर्फ दो किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। स्कूल में सिर्फ दो अध्यापक तैनात हैं। स्कूल का दसवीं कक्षा का नतीजा 2017-18 में शत प्रतिशत रहा है। स्कूल के 14 बच्चे एनएमएमएस स्कालरशिप के लिए सिलेक्ट हुए हैं। पढ़ाने के लिए स्कूल में नई विधियों का प्रयोग किया गया। इंगलिश प्रतियोगिता में ब्लाक लेवल में बच्चों ने पहला स्थान पाया। पर्यावरण को बचाने के लिए खाली जगहों पर पौधे लगाए और उनकी संभाल की। इसके अलावा लड़कियों की शिक्षा को उत्साहित किय। नशे के खिलाफ मुहिम चलाई। स्कूल में इन्फ्रास्ट्रक्चर मजबूत किया।

हर¨जदर ने स्कूल में लगाई एसएसटी लैब

फोटो-28

सरकारी कन्या सीसे स्कूल माहना ¨सह रोड में एसएस मास्टर के रूप में हर¨जदर कुमार तैनात हैं। उनकी अगवाई में स्कूल में एसएसटी लैब चल रही है। इस लैब में एलईडी लगी है जिससे बच्चे स्तरीय एजूकेशन हासिल कर रहे हैं। खास बात यह है कि इसी स्कूल में उनकी बेटी आंचल पढ़ती थी। इसके अलावा हर¨जदर कुमार द्वारा पढ़ाए गए विद्यार्थी आज अलग अलग क्षेत्र में उच्च शिक्षा हासिल कर रहे हैं।

हरमीत ने अपने खर्च पर स्कूल में बच्चों के लिए लगवाया प्रोजेक्टर

फोटो-29

सरकारी सीसे स्कूल भकना कलां में राजनीतिक शास्त्र के लेक्चरर हरमीत ¨सह भकना ने अपने खर्च पर स्कूल में स्मार्ट क्लास रूम बनाया। निजी खर्च पर ही क्लास रूम में प्रोजेक्टर लगवाया। इसके अलावा एनजीओ के सहयोग से बच्चों को किताबें, वर्दी मुहैया करवाई गई। स्कूल डेवलेपमेंट के काम करवाए। एनआरआइ के सहयोग से स्कूल में डोनेशन की व्यवस्था की। स्पेशल को¨चग के जरिये बच्चों का भविष्य संवारा।

Posted By: Jagran