जासं, अमृतसर: आपे से बाहर हुए कोरोना ने सोमवार को 555 लोगों को संक्रमित किया। कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इनमें से 470 मरीज कम्युनिटी से हैं, जिनके विषय में यह जानकारी नहीं कि ये किसके संपर्क में आने से संक्रमित हुए। वहीं 85 लोग कांटैक्ट से संक्रमित हुए हैं। इसके साथ ही अब सक्रिय मरीजों की गिनती बढ़कर 3,988 जा पहुंची है। रविवार को दो कोरोना संक्रमित महिलाओं की मौत भी हुई है। 57 वर्षीय महिला बसंत एवेन्यू निवासी थी जबकि 70 वर्षीय महिला तिलक नगर की रहने वाली थी। पिछले करीब पांच दिनों से लगातार मौतें हो रही हैं।

संक्रमितों में शहर के विभिन्न भागों से चार बच्चे भी रिपोर्ट हुए हैं। इनकी आयु 14 साल से कम है। दरअसल, ओमिक्रोन वैरिएंट की चपेट में आ चुके जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इसके विपरीत ओमिक्रोन वैरिएंट की जांच के लिए भेजे गए सैंपलों की जीनोम सीक्वेंसिग रिपोर्ट में नहीं मिल पाई। 2021 में श्री गुरु रामदास अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर इटली, मिलान व यूके से आए 11 यात्री कोरोना संक्रमित पाए गए थे। यह जानने के लिए कि कहीं ये ओमिक्रोन वैरिएंट की चपेट में तो नहीं, इनके सैंपल जीनोम सीक्वेंसिग के लिए दिल्ली नेशनल सेंटर फार डिजीज कंट्रोल में भेजे गए थे। तकरीबन बीस दिन बाद चार सैंपलों की रिपोर्ट आई। इनमें इन्हें ओमिक्रोन नेगेटिव बताया था, शेष सैंपलों का आज तक अता-पता नहीं लगा। हालांकि स्वास्थ्य विभाग यह मान चुका है कि अब जितने भी संक्रमित रिपोर्ट हो रहे हैं वे ओमिक्रोन वैरिएंट से प्रभावित हैं। लिहाजा अब इनकी जीनोम सीक्वेंसिग की जरूरत नहीं।

अस्पतालों में मरीजों की स्थिति

आइसीयू में - 14

वेटिलेटर पर - 8

बेडों की उपलब्धता

लेवल-टू

सरकारी अस्पतालों में -572

निजी अस्पताल - 690 लेवलृथ्री

सरकारी अस्पताल - 332

निजी अस्पताल - 273

Edited By: Jagran