अमृतसर [नितिन धीमान]। गुरु नानक देव अस्पताल (GNDH) में 41.43 लाख रुपये की लागत से खरीदी गईं दो हजार PPE Kits में कथित घोटाले की जांच अभी अधूरी है। सात जून को किट्स की सैंपल जांच के लिए रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) दिल्ली भेजा था। वहां से रिपोर्ट अब तक नहीं मिली है। इससे पहले ही गत बुधवार को मेडिकल शिक्षा एवं खोज विभाग ने मेडिकल कॉलेज की प्रिंसिपल डॉ. सुजाता शर्मा को पद से हटा दिया गया। वहीं शिकायतकर्ता मेडिसिन विभाग के प्रोफेसर डॉ. शिवचरण को पटियाला स्थानांतरित कर दिया गया।

कॉलेज प्रशासन की दोनों कमेटियों ने सौंपी जांच रिपोर्ट

मामले की जांच के लिए डॉ. सुजाता शर्मा ने ही अनॉटमी विभाग के प्रभारी डॉ. जेएस कुलार पर आधारित कमेटी का गठन किया था। साथ ही एक स्पेशल कोऑर्डिनेशन कमेटी बनाई गई, जिसके चेयरमैन एनेस्थीसिया विभाग के प्रोफेसर डॉ. जेपी अत्री को लगाया गया। दोनों कमेटियों में मेडिकल कॉलेज के कुल बीस डॉक्टरों को शामिल किया गया था। डॉ. कुलार व डॉ. जेपी अत्री ने बंद लिफाफे में रिपोर्ट प्रिंसिपल कार्यालय में जमा करवा दी थी।

कंपनी को वापस भेज दी गईं हैं सभी पीपीई किट्स

कथित घोटाला उजागर होने के बाद डीसी शिवदुलार सिंह ढिल्लों ने पुड्डा की प्रशासक डॉ. पल्लवी चौधरी को जांच का दायित्व सौंपा। मई और जून में डॉ. पल्लवी दो बार मामले की पड़ताल के लिए गुरु नानक देव अस्पताल गईं, लेकिन कोई निष्कर्ष नहीं निकला। हालांकि इन सबके बीच प्रिंसिपल ने ये सभी किट्स कंपनी को वापस भेज दीं और भुगतान की मांग की।

टेस्ट रिपोर्ट के लिए रिमाइंडर भेजा : डॉ. शर्मा

गुरु नानक देव अस्पताल के मेडिकल सुपरिंटेंडेंट डॉ. रमन शर्मा ने कहा कि अभी DRDO दिल्ली से PPE Kits की टेस्ट रिपोर्ट प्राप्त नहीं हुई है। इसी सप्ताह रिमाइंडर भेजकर रिपोर्ट मांगी है। इसके बाद ही पीपीई किट्स की क्वालिटी का पता चलेगा।

कोऑर्डिनेशन कमेटी ने जांच अधिकारी को सौंपी रिपोर्ट

वीरवार को स्पेशल कोऑर्डिनेशन कमेटी के चेयरमैन डॉ. जेपी अत्री ने डॉ. पल्लवी को वह जांच रिपोर्ट सौंपी जो उन्होंने डॉ. सुजाता शर्मा को पूर्व में दी थी।

जांच पूरी होने से पहले कुछ नहीं कहा जा सकता: डॉ. पल्लवी

पुड्डा प्रशासक डॉ. पल्लवी ने कहा- अभी मामले की जांच चल रही है। जांच पूरी होने तक कुछ नहीं कह सकतीं। रिपोर्ट तैयार कर सरकार को भेजेंगी।

अधिकारियों की सहमति पर हुआ डॉ. सुजाता का तबादला: सोनी

मेडिकल शिक्षा एवं खोज विभाग के मंत्री ओम प्रकाश सोनी ने इस बात से इंकार किया है कि PPE Kits की वजह से डॉ. सुजाता को हटाया गया। उनका कहना है कि विभाग के अधिकारी पिछले दिनों गुरुनानक देव अस्पताल गए थे। उन्होंने ही डॉ. सुजाता को प्रिंसिपल पद से हटाने पर सहमति व्यक्त की थी।

मेरे फंड का हुआ दुरुपयोग: औजला

सांसद गुरजीत सिंह औजला ने कहा PPE Kits घोटाला उनके फंड का दुरुपयोग है। 28 मार्च को उन्होंने एक करोड़ जारी किए। वह इस मामले में लीपापोती नहीं होने देंगे।

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!