जागरण संवाददाता, अमृतसर : बीआरटीएस कोरिडोर में अपने वाहन लेकर घुसने वाले चालकों के खिलाफ आखिर कार ट्रैफिक पुलिस ने सख्त रवैया अपनाना शुरू कर दिया है। बुधवार को ट्रैफ्कि पुलिस ने विभिन्न स्थानों पर नाके लगाकर उनके चालान काटे। ऐसे लोगों के कारण बसों के संचालन में परेशानी संबंधी शिकायत भी बीआरटीएस अधिकारियों ने पुलिस को भेजी थी। इसी के चलते बुधवार को ट्रैफिक पुलिस ने रेलवे स्टेशन, कंटोनमेंट चौंक और वेरका रोड पर नाका लगाया। इस दौरान कुल 11 चालान काटे गए। साथ ही कई लोगों को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया। हालांकि इस दौरान कई चालकों ने पुलिस कर्मियो को देखकर वाहन भगाने की भी कोशिश की, लेकिन पुलिस कर्मी ने पीछा कर वाहन चालकों को पकड़ा और उनके चालान किए गए।

एडीसीपी ट्रैफिक दिलबाग सिंह ने कहा कि बीआरटीएस केवल मेट्रों बसों के लिए है। पिछले पांच महीनों से लगातार इस संबंधी लोगों से अपील की जा रही है कि इस कोरिडोर में अपने वाहन लेकर न घुसें। बावजूद इसके लोग वाहन लेकर जा रहे हैं। जिस कारण अब मजबूरन उन्हें सख्ती बरतनी पड़ रही है। यह कार्रवाई लगातार जारी रखी जाएगी। अगर जरूरत पड़ी तो वाहनों को बांड भी किया जाएगा क्योंकि मेट्रो बसों का स्टापेज केवल एक से दो मिनट का होता है। ऐसे में दो पहिया या चार पहिया वाहन जब इसमें घुस जाते हैं तो कई बार हादसे होने का भी डर रहता है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran